अमेठीउत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलाइव टीवी

अमेठी में पिछले 3 वर्षों से निर्माणाधीन फ्लाईओवर को यथा शीघ्र पूर्ण कराने के संबंध में विभिन्न संगठनों द्वारा धरना प्रदर्शन करते हुए SDM को सौंपा गया ज्ञापन।

18 महीने में पूरा होने वाला फ्लाईओवर अभी तक पड़ा है अधूरा।

अमेठी–पिछले 3 साल से निर्माणाधीन ककवा रोड ओवर ब्रिज को बनाए जाने की मांग को लेकर सैकड़ों की संख्या में लोगों ने किया धरना प्रदर्शन। अमेठी प्रशासन की ढुलमुल रवैए से चंद व्यापारियों के द्वारा सड़क का अतिक्रमण न हटाने के चलते नहीं बन पा रहा है ओवरब्रिज। अमेठी तहसील क्षेत्र में रेलवे लाइन के दक्षिण दिशा में निवास करने वाली जनता को पिछले 3 वर्षों से हो रही है समस्या। लोगों ने तहसील पहुंचकर धरना प्रदर्शन करते हुए ओवर ब्रिज का निर्माण कार्य यथा शीघ्र पूर्ण करवाने के लिए SDM प्रीती तिवारी को सौंपा ज्ञापन।

ज्ञापन के प्रमुख बिंदु 
1. अमेठी- ककवा रेलवे ब्रिज नं0-102 सन् 2019 में पास हुआ।
2. 62 (बासठ ) करोड़ रूपये शासन द्वारा उ0प्र0 सेतु निगम उ०प्र० को प्राप्त हुआ।
3. शासन द्वारा निर्धारित किया गया कि पुल (ओवरब्रिज ) 18 महीने में जरूर तैयार हो जायेगा इस रास्ते से रोज 25 हजार लोग आते-जाते हैं।
4. अमेठी प्रशासन को हीला-हवाली के कारण तीन साल बीत गया लेकिन ओवरब्रिज अधूरा है। पुल के पिलर बनकर तैयार हो गये हैं केवल सड़के बननी हैं आधे से ज्यादा व्यापारी खुद अतिक्रमण हटा दिये हैं लेकिन चन्द्र व्यापारी अतिक्रमण नहीं हटा रहे हैं प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं।
5. हर तीसरे दिन पी0डब्ल्यू0डी0, नगर पंचायत, सेतु निगम अमेठी तहसील प्रशासन निशानदेही कराता है और दो दिन बाद अतिक्रमण हटाने की चुनौती देकर चला जाता है हम लोगों की मांग है कि तत्काल प्रभाव से अतिक्रमण हटाया जाय लाखों लोग प्रभावित हो रहे हैं।
6. रेलवे लाइन के दक्षिणी छोड़ स्थित करीब साढ़े तीन लाख से अधिक की आबादी को सामना करना पड़ रहा है, जबकि नोटिस मिलने के बाद आधे से अधिक अतिक्रमणकारियों ने स्वतः अतिक्रमण खाली कर दिया है।
7. बाबजूद इसके न तो अभी तक विद्युत लाइन फोन सिफ्टिंग व सर्विस रोड का निर्माण शुरू नहीं किया गया है।
 8. जबकि निर्माण कार्य करने की अवधि बीत चुकी है लेकिन अधिकारियों के उदासीनता के चलते ओवरब्रिज का निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पा रहा है।
9. उक्त मामले को लेकर कई दशक से दक्षिण छोर के लोग ज्ञापन व धरना प्रदर्शन करते चले आ रहे हैं, लेकिन अभी तक स्थानीय प्रशासन की और से समुचित कदम नहीं उठाया गया है।
10. चन्द्र लोगों के चलते निर्माण कार्य में बाधा आ रही है, तत्काल निर्माण कार्य पूर्ण कराया जाय, नही तो दक्षिणी छोर के लाखों की आबादी धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होगी।

Lokesh Tripathi

पूरा नाम - लोकेश कुमार त्रिपाठी शिक्षा - एम०ए०, बी०एड० पत्रकारिता अनुभव - 6 वर्ष जिला संवाददाता - लाइव टुडे न्यूज़ चैनल एवं हिंदी दैनिक समाचारपत्र "कर्मक्षेत्र इंडिया" उद्देश्य - लोगों को सदमार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करना। "पत्रकारिता सिर्फ़ एक शौक" इच्छा - "ख़बरी अड्डा" के माध्यम से "कलम का सच्चा सिपाही" बनना।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button