ओपिनियन

लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा ने बनाई आक्रामक रणनीति

लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा ने बनाई आक्रामक रणनीति

100 दिनों में 400 पार का लक्ष्य किया निर्धारित! मृत्युंजय दीक्षित भारतीय जनता पार्टी ने आगामी लोकसभा चुनावों के लिए नई दिल्ली के भारत मंडपम में आयोजित कार्यकारिणी की बैठक…
रामलहर में हिचकोले खाती भारतीय विपक्ष की राजनीति

रामलहर में हिचकोले खाती भारतीय विपक्ष की राजनीति

मृत्युंजय दीक्षित अयोध्या में 22 जनवरी 2024 को प्रभु श्रीरामलला का दिव्य भव्य प्राण प्रतिष्ठा का समारोह संपन्न हो जाने के बाद पूरे देश का वातावरण राममय है और स्वाभाविक…
बिहार में फिर पलटमारी – आखिर क्यों और क्या होगा असर

बिहार में फिर पलटमारी – आखिर क्यों और क्या होगा असर

मृत्युंजय दीक्षित बिहार में एक बार फिर पलटमारी की राजनीति हो गयी है। जद यू के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जो संपूर्ण भारत में विपक्षी दलों का महागठबंधन बनाकर प्रधानमंत्री मोदी…
बिराजे रामलला निज धाम, जगत में छाया है उल्लास

बिराजे रामलला निज धाम, जगत में छाया है उल्लास

मृत्युंजय दीक्षित पाँच शताब्दियों के अथक संघर्ष व प्रतीक्षा के पश्चात प्रभु श्री रामलला अपने नव्य, भव्य एवं दिव्य मंदिर में प्रतिष्ठित हुए । प्राण प्रतिष्ठा के साथ ही संपूर्ण…
हिन्दुत्व की स्थापना और शुक्रिया मोदी भाईजान! असंभव हो रहा संभव!!

हिन्दुत्व की स्थापना और शुक्रिया मोदी भाईजान! असंभव हो रहा संभव!!

मृत्युंजय दीक्षित 500 वर्षों के अथक संघर्ष के पश्चात अयोध्या में प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि पर दिव्य एवं भव्य राम मंदिर के निर्माण के साथ ही उसके गर्भगृह में प्रभु…
इंडी गठबंधन- सिद्ध हुआ रामद्रोही

इंडी गठबंधन- सिद्ध हुआ रामद्रोही

कांग्रेस ने ठुकराया निमंत्रण, अखिलेश ने पहचाना नहीं मृत्युंजय दीक्षित क्रमशः वामपंथी, तृणमूल, राजद, सपा के बाद कांग्रेस ने भी मुस्लिम तुष्टीकरण की विकृत राजनीति को आगे बढ़ाते हुए श्रीरामजन्मभूमि…
प्राण प्रतिष्ठा समारोह और दर्द से कराहते सेक्युलर विरोधी दल

प्राण प्रतिष्ठा समारोह और दर्द से कराहते सेक्युलर विरोधी दल

मृत्युंजय दीक्षित जैसे जैसे अयोध्या में दिव्य एवं भव्य राम मंदिर में प्रभु श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा का शुभ मुहूर्त निकट आ रहा है वैसे वैसे जिन रामद्रोही व मुस्लिम…
अयोध्या से सनातन का भव्य सूर्योदय

अयोध्या से सनातन का भव्य सूर्योदय

रामलला की  प्राण प्रतिष्ठा के दिन दीपावली मनाने के लिए उत्साह  मृत्युंजय दीक्षित पांच सौ वर्षों के सतत संघर्ष और स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद विकृत व दूषित मनोवृत्ति की राजनीति…
सनातन विरोधी,पश्चिमी विचारों और असभ्यता का गठबंधन है – आई.एन.डी.आई.ए.

सनातन विरोधी,पश्चिमी विचारों और असभ्यता का गठबंधन है – आई.एन.डी.आई.ए.

मृत्युंजय दीक्षित वर्ष-2024 में लोकसभा चुनावों को लेकर सभी राजनैतिक दलों ने अपनी कमर कस ली है और तैयारियों को अंतिम रूप देने में लग गये हैं। प्रधानमंत्री नरेंद मोदी…
हिंदू समाज की विजयगाथा का प्रतीक है- गीता जयंती

हिंदू समाज की विजयगाथा का प्रतीक है- गीता जयंती

कर्म और धर्म की गतिशीलता का नाम है – गीता श्रीमदभगवदगीता एक ऐसा पुनीत ग्रंथ है जिसमें कर्म व धर्म समाहित हैं। गीता जयंती का पर्व भी कर्म, धर्म व…
Back to top button