अमेठीउत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरबड़ी खबर

संदिग्ध परिस्थितियों में घर के अंदर दलित 6 वर्षीय बेटी और 4 वर्षीय बेटे की गला काटकर हत्या तथा 28 वर्षीय मां की फांसी के फंदे से लटकता पाया गया शव।

संदिग्ध परिस्थितियों में घर के अंदर दलित 6 वर्षीय बेटी और 4 वर्षीय बेटे की गला काटकर हत्या तथा 28 वर्षीय मां की फांसी के फंदे से लटकता पाया गया शव।

आज सुबह अमेठी जिले के शिवरतनगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत को कुकहा रामपुर गांव में एक ह्रदय विदारक घटना देखने को मिली । जहां पर 28 वर्षीय महिला फांसी के फंदे से झूलती पाई गई। जी हां आपको बता दें कि इस गांव में निवास करने वाले धर्मराज पासी की 28 वर्षीय पत्नी शीतला देवी अपने दोनों बच्चों एवं 65 वर्षीय वृद्ध सास के साथ गांव में निवास करती थी। प्रतिदिन की तरह आज भी जब सुबह हुई और दिन निकल आया लेकिन घर में कोई चहल पहल नहीं हुई । तब बुजुर्ग महिला ने आस-पड़ोस के लोगों को सूचना दी लोगों ने ग्राम प्रधान को बताया। मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ने बताया कि मेरे साथ सहित दर्जनों की संख्या में लोग मौके पर पहुंचे थे। लोगों ने पहुंचकर कमरे का दरवाजा तोड़ा तो अंदर का नजारा देख कर दंग रह गए। कमरे के अंदर 28 वर्षीय शीतला देवी पत्नी धर्मराज पासी फांसी के फंदे से लटकती पाई गई और वहीं पर जमीन में उसकी 6 वर्षीय बेटी निधि तथा 4 वर्षीय बेटा नितेश लहूलुहान पड़ा हुआ था । दोनों बच्चों के गले कटे हुए थे किसी धारदार हथियार से इनका गला काट दिया गया था। अंदर के इस हृदय विदारक दृश्य को देखकर सब की रूह कांप गई लोगों ने इस बात की सूचना स्थानीय पुलिस को दी मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर विधिक कार्यवाही करते हुए जांच में जुट गई है। इस मामले में लोगों के जेहन में कई सवाल खड़े हो रहे हैं सबसे बड़ी बात तो यह है कि कुछ लोगों का कहना है की स्वयं महिला ने ही अपने बच्चों की हत्या कर और फांसी के फंदे पर लटक गई। जब वह अपने कलेजे के दो टुकड़ों (बेटे और बेटी) की गर्दन को धारदार हथियार अथवा ब्लेड से बारी बारी से काट सकती है और उसके खून को देख सकती है तो फिर फांसी के फंदे पर झूलते समय उसने अपने आंखों पर आखिर गमछा क्यों बांध लिया है? दूसरी बात यह है कि ग्राम प्रधान प्रतिनिधि और पुलिस के द्वारा यह बताया जा रहा है कि दरवाजा अंदर से बंद था और दरवाजे को तोड़कर देखा गया तब अंदर का दृश्य नजर आया। ऐसे में कोई भी हत्या करेगा तो हत्या करके अंदर से दरवाजा बंद कर कैसे गायब हो सकता है? क्या उस कमरे में कोई ऐसी खिड़की थी जिससे हत्यारा घटना को अंजाम देने के बाद बाहर निकल सकता था? इसी तरह के कई सवाल खड़े हो रहे हैं जिनका जवाब अभी नहीं मिल पाया है कहीं ना कहीं पुलिस भी इन सारे सवालों के जवाब को तलाशने में जुटी हुई है। हालांकि सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस अधीक्षक डॉ इलामारन जी पहुंच कर पुलिस अधिकारियों के साथ साथ स्थानीय लोगों से बात कर घटना की जानकारी ली और इस संबंध में थानाध्यक्ष शिवरतनगंज को यथावश्यक दिशा निर्देश भी दिए।

Lokesh Tripathi

पूरा नाम - लोकेश कुमार त्रिपाठी शिक्षा - एम०ए०, बी०एड० पत्रकारिता अनुभव - 6 वर्ष जिला संवाददाता - लाइव टुडे न्यूज़ चैनल एवं हिंदी दैनिक समाचारपत्र "कर्मक्षेत्र इंडिया" उद्देश्य - लोगों को सदमार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करना। "पत्रकारिता सिर्फ़ एक शौक" इच्छा - "ख़बरी अड्डा" के माध्यम से "कलम का सच्चा सिपाही" बनना।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button