खबर तह तक

अमेठी चला विकास की ओर…

0

लोकेश त्रिपाठी अमेठी-

पिछले वर्ष 23 मई 2019 का ही दिन था जब लोकसभा चुनाव का परिणाम घोषित हुआ । अमेठी से लगातार तीन बार सांसद रहे राहुल गांधी को अपने ही संसदीय क्षेत्र में करारी मात मिली । भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी रही स्मृति ईरानी को अमेठी की जनता ने अपनी पलकों पर बिठाया । यहीं से अमेठी कि बदलाव की बयार शुरू हो गई । अब जबकि 23 मई 2020 को अमेठी के सांसद के रूप में स्मृति ईरानी का कार्यकाल 1 वर्ष पूरा हो गया । ऐसे में भारतीय जनता पार्टी ने माननीय सांसद महोदया द्वारा 1 वर्ष में किए गए कार्यों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया है जो इस प्रकार है।

सबसे पहले 1 साल सड़कों का जाल – जिसमें अमेठी संसदीय क्षेत्र में सड़कों को लेकर तमाम कार्य किए गए । जिसमें सबसे प्रमुख अमेठी कस्बे के बाईपास का काम शुरू हुआ है । जो पिछले दो चुनावों से अमेठी का सबसे बड़ा मुद्दा बना रहा । कहीं ना कहीं वर्तमान अमेठी सांसद स्मृति ईरानी का प्रयास रंग लाया और यह मुद्दा खत्म होता नजर आ रहा । इसी के साथ पूर्वांचल एक्सप्रेस वे अमेठी से होकर गुजर रही है जिसका थोड़ा बहुत लाभ अमेठी को भी प्राप्त होगा । वहीं पर रायबरेली – सुल्तानपुर एन एच 232, जगदीशपुर-अयोध्या एनएच 330 A, जगदीशपुर और सुल्तानपुर – प्रतापगढ़ एनएच 330 के जीर्णोद्धार का भी कार्य संपादित किया गया । इसी के साथ विभिन्न सड़कों के चौड़ीकरण एवं मरम्मत का कार्य निरंतर चलता रहा।

दूसरे नंबर पर युवाओं के सपनों के 1 साल पूरे हुए। इसमें आर्मी कैंप लगाकर युवाओं की भर्ती की गई । जिसमें अमेठी, रायबरेली, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़ सहित कई जिलों के युवा शामिल हुए । वहीं पर मुंशीगंज में एके 203 असाल्ट राइफल की फैक्ट्री का निर्माण कार्य कराया गया । इसी के साथ-साथ स्वरोजगार की दृष्टि से अमेठी के कुम्हारों को इलेक्ट्रिक चाक देकर उनका प्रशिक्षण संपन्न किया गया । जिससे वह आत्मनिर्भर बन सकें।

शिक्षित अमेठी के 1 साल की बात करें तो इसके तहत अमेठी में शिक्षा व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए जगदीशपुर के कठौरा में कन्या महाविद्यालय का निर्माण कार्य शुरू हुआ । इसी के साथ संसदीय क्षेत्र अमेठी में 4 आईटीआई कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू किया गया। दो राजकीय इंटर कॉलेज की स्थापना की गई । रामगंज के त्यौहार में 50 एकड़ भूमि में सैनिक स्कूल का निर्माण कार्य किया गया जहां पर कक्षाएं भी संचालित हो रही हैं । वही गौरीगंज में केंद्रीय विद्यालय की स्थापना की गई । जिसमें बच्चे पढ़ाई करना शुरू कर दिए हैं।

स्वस्थ अमेठी के 1 साल के तहत तिलोई तहसील में लगभग 500 करोड़ की लागत से मेडिकल कालेज का निर्माण प्रक्रिया प्रारंभ करें हुई । जननी सुरक्षा मिशन के अंतर्गत 84646 लाभार्थियों को मदद मिली । आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 107660 लोगों को गोल्डन कार्ड दिया गया तथा अमेठी के तिलोई में 200 बेड वाले रेफरल अस्पताल का निर्माण कार्य भी इसी 1 साल के भीतर संपन्न हुआ । वहीं पर 102 वैलनेस सेंटर की स्थापना की गई तथा जगदीशपुर में ट्रामा सेंटर का भी निर्माण कराया गया।

किसानों की उम्मीदों का 1 वर्ष में प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत 188445 लाभार्थियों को सहायता राशि उपलब्ध कराई गई । कृषि विज्ञान केंद्र जगदीशपुर के कठौरा में स्थापित की गई । मिट्टी के जांच एवं संरक्षण केंद्र की स्थापना की गई । अमेठी नगर पंचायत में कान्हा उपवन का निर्माण किया गया । इसी के साथ 2 करोड़ 40 लाख रुपये की लागत से मुसाफिरखाना में बृहद गौ संरक्षण केंद्र का निर्माण भी कराया गया है।

पक्के घर के सपनों के 1 वर्ष में प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के तहत 5998 लोगों को मिला पक्का घर। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत 31235 लोगों को मिला पक्का आवास । तो वहीं पर 732 लोगों को मुख्यमंत्री आवास योजना का मिला लाभ। कुल 259590 घरों को शौचालय के लिए दी गई आर्थिक मदद।

विकसित अमेठी के एक वर्ष के तहत सर्वप्रथम कलेक्ट्रेट भवन का निर्माण कार्य चल रहा है । जगदीशपुर और गौरीगंज में अग्निशमन केंद्रों का निर्माण कार्य कराया गया । 35 आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण जगदीशपुर और सिंहपुर ब्लाक में सद्भावना मंडप का निर्माण अमेठी के सगरा तालाब एवं कालिकन धाम के सौंदर्यीकरण का प्रस्ताव के साथ अमेठी संसदीय क्षेत्र में 7 बिजली पावर स्टेशन का निर्माण कार्य संपन्न हुआ है।

आम जनमानस के लिए किए गए कार्य इस प्रकार हैं जिसमें निराश्रित महिला पेंशन के तहत 25221 महिलाओं को पेंशन 10600 दिव्यांगों को पेंशन 89000 लोगों को मिला प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा का लाभ 24000 लोगों को मिला प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ प्राप्त हुआ ।वहीं पर उज्ज्वला योजना के तहत 132725 महिलाओं को मिला मुफ्त में गैस कनेक्शन तथा सौभाग्य योजना के तहत संसदीय क्षेत्र अमेठी में 68394 घरों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया गया।

अतिवृष्टि, बारिश तथा ओलावृष्टि आंधी, तूफान के साथ-साथ वर्तमान में कोरोनावायरस से फैली महामारी की आपदा से संघर्ष में संसदीय क्षेत्र अमेठी के 80 हजार से अधिक लोगों से सीधा संपर्क स्थापित कर मदद पहुंचाई गई। अमेठी लोकसभा क्षेत्र में 50 हजार लोगों को उचित जानकारी एवं मदद दी गई। बाहरी प्रदेशों में फंसे अमेठी संसदीय क्षेत्र के 77 हजार लोगों की सूची तैयार की गई ।उनमें से लगभग 15 हजार से अधिक लोगों को उनके घर तक पहुंचाया गया । जिले की सभी गर्भवती महिलाओं को संपर्क कर उनकी मदद की गई । 15 हजार से अधिक जरूरतमंदों तक मोदी की टीम के माध्यम से राशन वितरण किया गया । जरूरतमंदों तक डेढ़ लाख मास्क तथा 15 हजार से अधिक गमछे और डेढ़ लाख हैंड सेनीटाइजर एवँ हैंड ग्लव्स पहुंचाए गए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More