उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

आंधी-पानी से समूचे उत्तर प्रदेश में तापमान में बड़ी गिरावट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ का बड़ा असर देखने को मिल रहा है। पिछले दो-तीन दिनों से जारी आंधी-बारिश की वजह से प्रदेश के लगभग सभी शहरों में तापमान 10 डिग्री तक नीचे आ गया है। प्रदेश के ज्यादातर शहरों में तापमान 30 डिग्री सेल्सियस से 35 डिग्री सेल्सियस के बीच ही दर्ज किया गया है। चुर्क जहां की तापमान काफी ऊपर चला जाता है, वहां तो 30 डिग्री के नीचे तापमान दर्ज किया गया है। रात और दिन दोनों के ही तापमान में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। 4 जून को प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान नजीबाबाद में दर्ज किया गया 35 डिग्री सेल्सियस जबकि सबसे कम तापमान चुर्क में दर्ज किया गया 28.6 डिग्री सेल्सियस।

बुंदेलखंड को मिली बड़ी राहत, इलाहाबाद भी 29.7 डिग्री सेल्सियस

सबसे ज्यादा बुंदेलखंड के जिलों को राहत मिली है. यहां उरई और हमीरपुर में तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है, जो सामान्य से 15 से 16 डिग्री सेल्सियस कम है। इसके अलावा झांसी में तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो सामान्य से 13 डिग्री कम है। इसके अलावा प्रयागराज में भी तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है। प्रयागराज में 4 जून को तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 12 डिग्री कम है।

कानपुर में 12 डिग्री तापमान नीचे, पश्चिम यूपी में नजीबाबाद सबसे गर्म

कानपुर में भी सामान्य से लगभग 12 डिग्री तापमान नीचे रहा है। हालांकि पश्चिमी यूपी के कुछ जिलों में तापमान प्रदेश के बाकी शहरों के मुकाबले ज्यादा रहा है। मेरठ और मुजफ्फरनगर में तापमान 33 डिग्री के ऊपर दर्ज किया गया है।वहीं नजीबाबाद प्रदेश का सबसे गर्म शहर रहा, जहां तापमान 35 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। इसके अलावा बरेली और शाहजहांपुर में भी प्रदेश के दूसरे जिलों के मुकाबले आज ज्यादा तापमान दर्ज किया गया लेकिन कुल मिलाकर यह 35 डिग्री के नीचे ही रहा और सामान्य से भी कम रहा।

बुंदेलखंड से ज्यादा गर्म रहा पश्चिमी यूपी

हालात यह रहे कि बुंदेलखंड से ज्यादा तापमान 4 जून को पश्चिमी यूपी में दर्ज किया गया है। बुंदेलखंड के ज्यादातर जिलों में तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के नीचे दर्ज किया गया है, जबकि पश्चिमी यूपी के ज्यादातर शहरों में तापमान 30 डिग्री के ऊपर दर्ज किया गया है, जो 35 डिग्री तक गया है।

6 जून के बाद खिलेगी धूप, बढ़ेगी उमस

जाहिर तौर पर पश्चिमी विक्षोभ के कारण आंधी-बारिश से लोगों को काफी सुकून मिला है, जो 5 जून को भी जारी रहेगा। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक 6 जून से मौसम में तब्दीली आएगी। और बारिश का सिलसिला थमेगा. धूप निकलेगी।धूप निकलने से जहां एक तरफ तापमान में बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं दूसरी ओर बारिश होने के कारण उमस में भी बढ़ोतरी हो सकती है।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button