अमेठीउत्तर प्रदेश

अमेठी में बनेंगी 6 लाख AK-203 राइफलें! पुतिन के भारत दौरे से पहले 5000 करोड़ रुपए की डील पर होंगे साइन

उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में रक्षा मंत्रालय ने बीते मंगलवार को रूस के साथ 5 हजार करोड़ रुपए की असॉल्ट ‘AK-203’कलाशनिकोव राइफल खरीद समझौते पर मंजूरी दे दी. यह फैसला रूसी राष्ट्रपति के भारत दौरे से पहले लिया गया है. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की अगले महीने भारत आने की उम्मीद है. बता दें कि वहीं, उत्पादन इकाई में 10 साल के भीतर 6 लाख से ज्यादा ‘एके 203’राइफलों का निर्माण करेगा. सूत्रों ने बताया कि कीमत सहित विवादास्पद मुद्दों को सुलझा लिया गया है.

दरअसल, खबरों के मुताबिक एके -203 असॉल्ट राइफल्स के इस सौदे पर पुतिन की यात्रा के दौरान डील साइन किए जा सकते हैं. रूस की डिजाइन की गई इस राइफल को अमेठी की एक फैक्ट्री में बनाया जाएगा. दोनों देशों के बीच कुछ साल पहले इस सौदे पर सहमति बनी थी. वहीं, डील में आखिरी बड़ा मुद्दा टेक्नोलॉजी ट्रांसफर का है, जिसे अभी निपटा लिया जाएगा. भारतीय सेना को मिलने वाली 7.5 लाख राइफलों में से पहली 70,000 रूस से मंगाई जाएंगी जैसा कि टेक्नोलॉजी का ट्रांसफर धीरे-धीरे होता है. इन्हें प्रोडक्शन प्रोसेस शुरू होने के 32 महीने बाद आर्मी को दिया जाएगा.

यूनिट में 10 साल में बनेगी 6 लाख से ज्यादा असाल्ट राइफल

बता दें कि सूत्रों के अनुसार रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई ‘रक्षा खरीद परिषद’ (DAC) की बैठक में राइफल के संयुक्त उपक्रम के प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा हुई. इसके साथ ही जानकारी मिली है कि इस समझौते में आने वाली अड़चनों को दूर कर लिया गया है. वहीं, लगभग 5 हजार करोड़ रुपए के इस सौदे के तहत, भारत और रूस संयुक्त उपक्रम यूपी के अमेठी जिले में एक उत्पादन इकाई में 10 साल के भीतर 6 लाख से ज्यादा ‘ए के 203’ राइफलों का निर्माण करेगा.

राष्ट्रपति पुतिन 6 दिसंबर को भारत आने की हैं संभावना

सूत्रों के अनुसार हथियारों की कीमत सहित विवादास्पद मुद्दों को सुलझा लिया गया है. दोनों पक्षों ने पिछले साल सिंह की मास्को यात्रा के समझौते को सैद्धांतिक मंजूरी दी थी. संयुक्त उपक्रम द्वारा एके 203 कलाशनिकोव राइफलों के निर्यात की संभावना तलाशने की भी उम्मीद है. मोदी के साथ शिखर वार्ता के लिए पुतिन के 6 दिसंबर को भारत आने की संभावना है.

Lokesh Tripathi

पूरा नाम - लोकेश कुमार त्रिपाठी शिक्षा - एम०ए०, बी०एड० पत्रकारिता अनुभव - 6 वर्ष जिला संवाददाता - लाइव टुडे न्यूज़ चैनल एवं हिंदी दैनिक समाचारपत्र "कर्मक्षेत्र इंडिया" उद्देश्य - लोगों को सदमार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करना। "पत्रकारिता सिर्फ़ एक शौक" इच्छा - "ख़बरी अड्डा" के माध्यम से "कलम का सच्चा सिपाही" बनना।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button