उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरपीलीभीत

पीलीभीत गोद लिया बेटा बना हैवान, मां की ले ली जान पिता को पीट-पीटकर किया बेजान!

पीलीभीत। एक तरफ मां की जल रही चिंता और दूसरी तरफ पिता काे पीट-पीटकर कर चिंता पर लेटाने का कलयुगी बेटा कर रहा प्रयास, रिश्तों को शर्मसार करने वाली तस्वीरें यूपी के पीलीभीत की है। यहा एक बेटे पर आरोप है कि पहले उसने पिता पर हमलावर होने का प्रयास किया, तो बीच-बचाव करने पहुंची माँ को बेटे ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। जिसके बाद परिवारजनों ने चुपचाप खेत में शव का अंतिम संस्कार की क्रिया भी शुरु कर दी। मामला यहीं नहीं थमा एक तरफ मां की चिता जल रही तो कलयुगी बेटा दूसरी तरफ अपने पिता को मारने पर आमदा हाे गया। पिता को बुरी तरह मारता देख ग्रामीणों ने कलयुगी बेटे को पकड़ा और पिता की किसी तरह जान बचाई। इसी बीच पुलिस को पूरे मामले की भनक लग गई और पुलिस ने जाकर आरोपी को हिरासत में ले लिया है और अवशेषों का पीएम करा रही है।

दरअसल पूरा घटनाक्रम क्या है और कलयुगी बेटे सूर्यकांत की स्टोरी क्या है। यह आपकाे बताते है जिसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे! दरअसल पूरनपुर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मटैहना कॉलोनी निवासी अकाली देवी की कोई औलाद नही थी इसलिए उसने अपने भतीजे सूर्यकांत को गोद लिया था। बताया जा रहा किसी बात को लेकर रविवार रात सूर्यकांत ने शराब के नशे में धुत्त होकर घर पर हंगामा शुरू कर दिया और पिता शंकरलाल पर हमलावर होने का प्रयास किया। जब माँ ने सूर्यकांत को समझाने का प्रयास किया तो शराब के नशे में धुत सूर्यकांत ने अपनी मां अकाली देवी को ही पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया।

बेटे की पिटाई से जान गंवाने वाली महिला का अंतिम संस्कार परिजनों द्वारा चुपचाप कर दिया गया। मां को जान से मारने के बाद भी बेटे का मन नहीं भरा तब वह पिता काे मारने पर आमदा हो गया और मां की चिता के पास ही पिता को बुरी तरह पीटने लगा जिसका वीडियो भी अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसी बीच गांव के किसी जागरूक नागरिक द्वारा पूरे मामले की सूचना कोतवाली थाना पुलिस को दे दी गई। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है वहीं आरोपी को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और कार्यवाही कर रही है। गौरतलब है कि गोद लिए बेटे की हैवानियत का शिकार हुई मां ने कभी नहीं सोचा होगा जिसका उन्होंने पालन पोषण किया एक दिन वही उसका काल बन जाएगा।

Show More

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button