उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

योगी है तो मुमकिन है: नहीं आएगी तीसरी लहर, ये है कोरोना के विनाश के मॉडल

यदि आप यूपी में हैं तो अब निश्चिंत हो जाएं क्योंकि यूपी में योगी हैं। योगी जैसा की नाम से ही समझा जा सकता है। गोरखनाथ मन्दिर के महन्त से प्रदेश के मुखिया तक का सफर तय करने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्णयों से उत्तर प्रदेश का नाम अब विदेशों में जाना जा रहा है।

सीएम योगी का कोरोना मॉडल बना आदर्श मॉडल

यदि आप यूपी में हैं तो अब निश्चिंत हो जाएं क्योंकि यूपी में योगी हैं। योगी जैसा की नाम से ही समझा जा सकता है। गोरखनाथ मन्दिर के महन्त से प्रदेश के मुखिया तक का सफर तय करने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्णयों से उत्तर प्रदेश का न केवल नाम अब विदेशों में जाना जा रहा है, बल्कि सीएम योगी की कोरोना पर बनाई गई कार्ययोजना की तारीफों का डंका ऑस्ट्रेलिया की सांसद में भी बजा। यही वजह है कि पूरे देश में सीएम योगी का कोरोना मॉडल आदर्श बना हुआ है।

योगी सरकार के प्रयासों से प्रदेश में दम तोड़ रहा कोरोना

कोरोना की दूसरी लहर पूरे देश में कहर बनकर टूटी थी। अब हालात धीरे-धीरे संभलने लगे हैं। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की सख्ती और सूझबूझ से अब कोरोना दम तोड़ने लगा है। हर दिन कोरोना के मामलों में गिरावट आ रही है। नए मामलों के साथ एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी आई है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार कमजोर पड़ती जा रही है। अब तक 75 में से 33 जिले कोरोना फ्री हो गए हैं। सीएम खुद जमीन पर उतरकर व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। अधिकारियों के साथ लगातार बैठकों पर बैठकें की जा रही हैं। हर स्थिति पर सूबे के मुख्यमंत्री पैनी नजर बनाए हुए हैं। जिसके चलते कोरोना अब आंख उठाने की भी हिमाकत नहीं कर रहा।

व्यवस्थाओं पर मुख्यमंत्री की पल-पल की नजर

जंसख्या के मामले में उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। लेकिन फिर भी यहां कोरोना पूरी तरह कंट्रोल में आ रहा है। अन्य राज्यों में जहां कोरोना संक्रमण की दर फिर से बढ़ रही है वहीं यूपी में कोरोना की रफ्तार हर दिन कम हो रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद मैदान में डटे हुए हैं। सीएम अधिकारियों और डॉक्टरों के साथ कई बार बैठकें कर चुके हैं और पल-पल की नजर बनाए हुए हैं। इसी का परिणाम है कि प्रदेश के ज्यादातर जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में यूपी के 75 में से 66 जिलों में कोरोना का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है। सिर्फ 9 जिलों में ही मरीज मिले हैं।

वैक्सीनेशन से कोरोना को दी जा रही मात

उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना को रोकने के लिए वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है। प्रदेश में अब तक 8.39 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा चुकी है। इनमें से 7.01 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं, जिन्हें वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग चुकी है। सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य यूपी देश का पहला राज्य है, जहां इतने ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 200 से नीचे आ गई है। पिछले 24 घंटे में राज्य में 24 मरीज कोरोना से ठीक होकर घर लौटे हैं। इसके बाद यूपी में एक्टिव केसेस की संख्या 199 हो गई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांधे सीएम योगी की तारीफों के पुल

बता दें कि योगी सरकार के कोविड प्रबंधन की सराहना विश्व स्वास्थ्य संगठन और नीति आयोग पहले ही कर चुका है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसे लेकर संतोष जताया था। अपराधियों पर भी सीएम योगी ने लगाम लगाने का ऐसा काम किया कि अब खुद अपराधी थाने पहुंचकर गिरफ्तारी देते नजर आ रहे हैं। कानून व्यवस्था अब पहले से भी ज्यादा दुरूस्त हो चली है। वहीं कोरोना पर भी जो लगाम यूपी में योगी आदित्यनाथ ने लगाई है। उसको लेकर खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामों की तारीफ मंचों से की है। कुल मिलाकर यूपी और योगी का मॉडल आज जो समाने आ रहा है उससे बाकी के प्रदेशों को सीखने और अपनाने की जरुरत है। क्योंकि भाई ये यूपी है जहां भगवान राम की मर्यादा भी है और तहजीब भी। इस लिए कहते हैं कि मुस्कराई आप यूपी में है।

Show More

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button