Khabri Adda
खबर तह तक

सीएम योगी ने तरकुलानी रेग्‍यूलेटर का किया लोकार्पण, बोले- डबल इंजन की सरकार में तेजी से होगा विकास

0
उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गोरखपुर के खोराबार में तरकुलानी रेग्‍यूलेटर का लोकार्पण किया. साल 2017 में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इसका शिलान्‍यास किया था. 85 करोड़ की लागत से बने इस रेग्‍यूलेटर पंपिंग सेट के तैयार होने से 50 हजार की आबादी को हर साल आने वाली बाढ़ से राहत मिलेगी. इसके साथ ही किसानों की हजारों हेक्‍टेयर खेती भी बाढ़ की भेंट चढ़ने से बच जाएगी.
सड़क से लेकर संसद तक लड़ी लड़ाई
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खोराबार के बेलवार स्थित तरकुलानी रेग्‍यूलेटर पंपिंग स्‍टेशन पर पहुंचे. 85 करोड़ की लागत से बने इस रेग्यूलेटर पंपिंग स्‍टेशन का उन्‍होंने लोकार्पण किया. इसे बनाने के लिए सांसद रहते हुए उन्‍होंने सड़क से लेकर संसद तक लड़ाई लड़ी. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि तरकुलानी रेग्यूलेटर के लोकार्पण कार्यक्रम में बाढ़ से जुड़ी 145 करोड़ से अधिक की 10 परियोजनाओं के लोकार्पण के अवसर पर सभी का स्वागत करता हूं.
डबल इंजन की सरकार में तेजी से होता है विकास
योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि 2009 में जब यहां आया था तो लोग कहते थे कि तरकुलानी रेग्युलेटर बन जाए, तो मैं सोचता था कि इसका फायदा क्या है. तब बाढ़ में खोराबार का ये क्षेत्र डूब जाता था. आज जब यहां पर तरकुलानी रेग्युलेटर का शुभारम्भ हो रहा है, तो ये 32 हजार की आबादी को बाढ़ से बचाएगा. केंद्र और प्रदेश में डबल इंजन की सरकार होती है, तो विकास और तेजी के साथ होता है.
जीवन और जीविका को बचाया है
योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि पिछला डेढ़ साल पूरी दुनिया के लिए बेहद खराब रहा. जाने कितने लोग कोरोना की चपेट में आ गए. लेकिन, गोरखपुर में कोरोना के समय एक-एक व्यक्ति की चिंता के साथ विकास के काम भी किए गए. जीवन और जीविका दोनों को बचाना है. मोदी जी के नेतृत्व में जीवन और जीविका को भी बचाया है.
बाढ़ की विभीषिका देखी
सीएम योगी ने कहा कि केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत राजस्थान से आते हैं. उन्होंने यहां बाढ़ की विभीषिका देखी. मैंने उनसे कहा कि ये पानी आप अपने यहां ले जाएंगे, तो उन्हें पानी मिल जाएगा और यहां के लोगों को बाढ़ से निजात मिलेगी. वो दिन भी आएगा. हर घर नल योजना से घर-घर पेयजल उपलब्ध कराना है. बुन्देलखण्ड में भी काम शुरू हो गया है. मस्तिष्क ज्वर का कारण यही था. एक गंदगी और दूसरा शुद्ध पेयजल ना होना.
एम्स बनकर तैयार है
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज एम्स बनकर तैयार है, अक्टूबर में प्रधानमंत्री जी से उद्घाटन करवाएंगे. जिसमें अत्याधुनिक सुविधाएं मिलेंगी. 1990 से बंद फर्टिलाइजर फैक्ट्री भी अक्टूबर तक तैयार हो जाएगी. इसका भी उद्घाटन पीएम करेंगे. रामगढ़ताल और चिड़ियाघर की सौगात दी गई है. उपद्रवियों की संपत्ति जब्त कर जनता को समर्पित कर रहे हैं. आज जब उनकी सम्पति को रौंदने का काम कर रहे हैं, तो आपकी पीढ़ी को सुरक्षित करने के लिए ये सब कर रहे हैं. उनका आप साथ नहीं देंगे ऐसी उम्मीद है.
पैसे की कमी नहीं
केन्‍द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्‍द्र सिंह शेखावत ने कहा कि यूपी के लिए जितना भी पैसा मांगा जाएगा, उनका मंत्रालय वहां पर उतना पैसा देने में सक्षम है. हम संकोच नहीं करेंगे. जहां भी यूपी में विकास होना है, वहां पर फंड की वजह से काम नहीं रुकेगा. उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र सरकार विकास की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचा रही है. शुद्ध पेयजल घर-घर तक पहुंचाने के लिए हमारी सरकार कटिबद्ध है. बाढ़ राहत कार्यों में स्‍थायित्‍व देकर उत्तर प्रदेश ने पूरे देश में मिसाल कायम की है. इस अनूठी परियोजना को देखकर उनका भरोसा जगा है कि वे इसे अपनाकर अन्‍य प्रदेश भी बाढ़ के पानी से खुद को प्रभावित होने से बचा सकते हैं.
गर्व की बात
यूपी के जलशक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह ने कहा कि कितने गर्व और गौरव का विषय है. राजस्थान की वीरभूमि से केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत जी ने कहा है यूपी के लिए जितना भी पैसा मांगा जाएगा वो देने को तैयार हैं. 24 जनवरी 1950 को उत्तर प्रदेश बना था. आज मैं योगी जी की कैबिनेट का सिपाही हूं. आज हम लोग तरकुलानी रेग्यूलेटर के उद्घाटन के लिए बैठे हैं. पहले आया था तो घर और फसलें डूब गई थी.
यूपी को भारत में नंबर एक का राज्य बनाएंगे
डॉ महेंद्र सिंह ने कहा कि सीएम में कहा था कि यहां पर रेग्यूलेटर बनेगा. आज वो दिन आ गया. 145 बाढ़ परियोजनाओं का लोकार्पण हो रहा है. जो पैसा मार्च-अप्रैल में मिलता था, वो अब जनवरी में मिल गया. 2017 के पहले 15 लाख 41 हजार 773 हेक्टेयर जमीन बाढ़ से प्रभावित होती रही है. 2019-20 में 12 हजार और 2020 और 2021 में ये 6 हजार पहुंच गया. हम सभी मिलकर यूपी को भारत में नंबर एक का राज्य बनाएंगे.
नया भारत, नया उत्तर प्रदेश और नया गोरखपुर मिला
गोरखपुर के सांसद रविकिशन ने कहा कि ”आप लोगों ने देखा ये रेग्यूलेटर 85 करोड़ की लागत से बना है. योगी जी सड़क से संसद तक आवाज उठाए. वो बोलते नहीं हैं, लेकिन बहुत भावुक हैं. जब किसान के खेत और मकान डूब जाते थे, तो वो मंदिर में आकर अपनी गुहार लगाते रहे हैं. सपा की सरकार में सीएम बोलते थे 1 करोड़ रुपया पास हुआ है. वो झूठ बोलते थे, 85 करोड़ रुपया यहां लगा है. 1947 से 2017 तक का उत्तर प्रदेश और 1947 से 2014 तक के भारत को याद करो. ये अपना पेट भरे और अपना महल बनाए. आज खोराबार में रेग्यूलेटर बन गया और भी सौगात आएगी. नया भारत, नया उत्तर प्रदेश और नया गोरखपुर मिला.”

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More