Khabri Adda
खबर तह तक

UP पुलिस का बड़ा खुलासा- चाचा को फंसाने के लिए मुनव्वर राना के बेटे तबरेज ने खुद पर चलवाई गोली

0
मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे पर गोली चलने के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. रायबरेली पुलिस का दावा है कि मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना ने खुद पर गोली चलवाने की साजिश रची थी. पुलिस ने बताया कि इस साजिश में शामिल चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस को मुनव्वर राना के बेटे तबरेज की तलाश है. पुलिस का कहना है कि तबरेज ने खुद पर गोली चलवाकर अपने चाचा को फंसाने के लिए पूरी साजिश रची थी. तबरेज अपने चाचा को संपत्ति विवाद में फंसाना चाहता था.
क्या बोले रायबरेली के एसपी?
रायबरेली पुलिस ने बताया कि पूछताछ और सीसीटीवी फुटेज की जांच के आधार पर इस साजिश का पता चला. एसपी श्लोक कुमार ने कहा कि तबरेज ने अपने साथी हलीम और सुल्तान के साथ पूरी साजिश रची. तबरेज ने अपने चाचा को संपत्ति विवाद फंसाने के लिए ये साजिश रची थी. एसपी ने कहा कि हलीम ने सतेंद्र और शुभम नाम के दो शूटर को फायरिंग के लिए भेजा था. उन्होंने बताया कि हलीम, सुल्तान, सतेंद्र और शुभम को गिरफ्तार कर लिया गया है. इनके पास से घटना में इस्तेमाल बाइक और पिस्टल बरामद कर ली गई है. तबरेज अभी वांछित है और उसकी गिरफ्तारी की कोशिशें की जा रही हैं.
मुनव्वर के घर पर दबिश
तबरेज राना की तलाश में देर रात पुलिस ने लखनऊ में मुनव्वर राना के घर दबिश दी थी. हालांकि, देर रात पुलिस की अचानक कार्रवाई को मुनव्वर राना ने गलत बताया है. मुनव्वर के परिवार का कहना है कि पुलिस उन्हें बेवजह परेशान कर रही है. परिवार का आरोप है कि देर रात पुलिस के 100 से ज्यादा जवान अचानक उनके घर पर आ धमके थे. मुनव्वर ने बताया कि बीती रात करीब 1 बजे अचानक उनके घर पर कई पुलिसवाले आ धमके. उनमें कुछ बिना वर्दी के भी थे. उन्होंने आगे बताया कि कई पुलिसवालों ने उनके घर और पूरी कॉलोनी को घेर लिया था. ऐसा लग रहा था कि ये कश्मीर हो और यहां आतंकी रहते हो.
मुनव्वर राना ने आगे कहा कि पुलिसवालों ने उनके साथ बदतमीजी भी की. पुलिसवाले सीधा बेडरूम तक घुस गए थे. बेडरूम में घर की महिलाएं भी थीं. राना ने कहा कि पुलिस को मुझसे बात करनी चाहिए थी. मेरा बेटा कोई अपराधी नहीं है. मैं किसी मुजरिम का बाप नहीं हूं.
28 जून को चली थी गोली
गौरतलब है कि 28 जून को रायबरेली में तबरेज पर बदमाशों ने गोली चला दी थी. हालांकि गोलीबारी में तबरेज बाल-बाल बच गए थे. ये हमला उस वक्त हुआ जब तबरेज अपनी गाड़ी में पेट्रोल भरवाने जा रहे थे. तबरेज पर दो राउंड फायरिंग हुई थी. तबरेज राना तब रायबरेली अपने मूल निवास पर आए हुए थे. हमले के बाद मुनव्वर ने कहा था कि जमीनी विवाद को लेकर उनके ही परिवार के लोग रंजिश रखते थे और उन्हीं लोगों ने हमला कराया होगा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More