खबर तह तक

रवि किशन बोले- गोरखपुर में मरने पर सीधे जाओगे स्वर्ग, इस बात पर हंसने लगे सीएम योगी

गोरखपुर: भाजपा सांसद रवि किशन भोजपुरी फिल्मों के स्टार भी हैं. जिनके भाषण पर अक्सर जनता हंसते- हंसते लोटपोट हो जाती है. लेकिन मंगलवार की रात उन्होंने ऐसा भाषण दिया कि मंच पर बैठे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत भाजपा के वरिष्ठ नेता हंसते- हंसते लोटपोट हो गए. यही नहीं जनसभा में मौजूद जनता भी रवि किशन के भाषण पर खूब जमकर तालियां बजाई
. दरअसल, गोरखपुर राप्ती नदी के तट पर बने गुरु गोरक्षनाथ घाट और श्रीराम घाट के लोकार्पण समारोह का आयोजन था. जिसका लोकार्पण करने के लिए सीएम योगी पहुंचे थे. वहीं इस कार्यक्रम में रवि किशन भी मौजूद थे. इस दौरान सीएम के अभिवादन और जनता के संबोधन में रवि किशन ने जो कुछ बोला वह लोगों के लिए हंसने का विषय बन गया. यह वीडियो भी खूब वायरल किया जा रहा है
.
भोजपुरी में स्वर्ग-नरक की बात जन सभा में बोलकर रवि किशन ने किया सबको लोट-पोट
दरअसल, राप्ती नदी के किनारे गैस आधारित बनाए गए शवदाह गृह को लेकर रवि किशन ने भोजपुरी में कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयास से ‘आज ई जौन भव्य माहौल बनल बा, एकरे वजह से अब जेकर भी यहां अंत्येष्टि होई, उ सीधे स्वर्ग जाई’. अब यहां जलने में बड़ा आनंद आएगा. इलेक्ट्रिक वाली मशीन पर फुकाई गइले में टाइम नाहीं लगी. लेकिन स्वर्ग वह जाएगा जो राप्ती के तट पर शौच नहीं करेगा. गंदगी नहीं फैलाएगा. रवि किशन कि भोजपुरी में इन बातों को सुनकर मुख्यमंत्री तो हंसने ही लगे बगल में बैठे जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह समेत अन्य नेता भी अपनी हंसी को रोक नहीं पाए.
रवि किशन की बातों पर जमकर हंसे सीएम योगी
इसके बाद जब जनता को संबोधित करने का अवसर मुख्यमंत्री को आया तो उन्होंने कहा कि राप्ती तट पर 2 साल पहले बहुत गंदगी हुआ करती थी. जिससे अंत्येष्टि के लिए आने वाले लोग भी बहुत ही असहज महसूस करते थे. उन्हें स्नान करने के लिए स्वच्छ घाट नहीं मिलता था. 10 बार सोचना पड़ता था कि वह कहां स्नान करें. लेकिन रवि किशन किसे- किसे स्वर्ग और किसे नरक भेजना चाहते हैं यह उनका विषय है. लेकिन यह जीवन की सच्चाई है कि जो जन्म लिया है उसकी मृत्यु निश्चित है. लेकिन इस बात का ध्यान जरूर रखना होगा की स्वच्छता और संरक्षण ही राप्ती नदी के तट की खूबसूरती को बनाए रखेगा.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More