खबर तह तक

उत्तराखंड आपदा: मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये देगी सरकार

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखंड में हुई आपदा में प्रदेश के लापता व्यक्तियों की खोज-बचाव के सम्बन्ध में अधिकारियों को उत्तराखंड राज्य सरकार से समन्वय स्थापित कर प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि आपदा की इस घड़ी में राज्य सरकार अपने नागरिकों सहित सभी प्रभावितों को हर सम्भव मदद उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्पित है.

मुख्यमंत्री ने सोमवार को यहां अपने सरकारी आवास पर उच्च स्तरीय बैठक में उत्तराखंड में आई आपदा से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में प्रदेश सरकार उत्तराखंड सरकार को हर सम्भव मदद प्रदान करेगी. उन्होंने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से फोन पर वार्ता कर संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से हर सम्भव सहायता का भरोसा दिलाया है.

राहत आयुक्त कार्यालय में कंट्रोल रूम स्थापित
मुख्यमंत्री ने इस आपदा से प्रभावित हुए प्रदेश के परिवारों की सहायता के लिए राहत आयुक्त कार्यालय में एक कंट्रोल रूम स्थापित करने के निर्देश दिए. उत्तराखंड राज्य सरकार से समन्वय के लिए प्रदेश सरकार के दो अधिकारियों को देहरादून भेजा जाएगा. उन्होंने कहा कि जिन जिलों के निवासी इस आपदा में लापता हैं, उन जिलों में जिला स्तरीय कंट्रोल रूम बनाया जाए. इसके अलावा प्रत्येक जिले में हेल्पलाइन नम्बर जारी किया जाए.

मुख्यमंत्री ने गृह विभाग को निर्देश दिया कि प्रत्येक प्रभावित परिवार से सम्पर्क स्थापित करके उनकी हर सम्भव मदद की जाए. उन्होंने सहारनपुर के मंडलायुक्ता और आईजी जोन को पूरी सक्रियता के साथ खोज-बचाव और राहत कार्यों पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए.

मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख की मदद
गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा से उत्तराखंड सरकार से समन्वय स्थापित करके लापता व्यक्तियों की खोज-बचाव करने को कहा गया है. इसके लिए वह उत्तराखंड भी जाएंगे. इस हादसे के प्रत्येक मृतक प्रदेशवासी के आश्रितों को मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से दो लाख रुपये की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जाएगी. सीएम योगी ने घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था कराने के निर्देश भी दिए हैं.

हेल्पलाइन नंबर किया गया जारी
राज्य मुख्यालय पर राहत आयुक्त कार्यालय में राज्य स्तरीय इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर शुरू कर दिया गया है. प्रदेश के लापता व्यक्तियों के परिजन लापता व्यक्ति का विवरण राहत हेल्पलाइन-1070 और वाट्सएप नम्बर 9454441036 पर दर्ज करा सकते हैं. साथ ही इस सम्बन्ध में जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं.
आपदा में प्रदेश के लापता लोगों की सहायता के लिए उत्तराखंड सरकार से समन्वय के लिए सहारनपुर के अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व विनोद कुमार (मोबाइल नं0-9454417646) तथा प्रोजेक्ट एक्सपर्ट फ्लड, राहत आयुक्त कार्यालय चन्द्रकान्त (मोबाइल नं0-9454410743) को देहरादून भेजा जा रहा है. ये अधिकारी उत्तराखंड के आपदा प्रबन्धन विभाग सहित अन्य अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर प्रदेश के लापता व्यक्तियों की खोज-बचाव व राहत का कार्य करेंगे.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More