Khabri Adda
खबर तह तक

उन्नावः प्रशासन के दोहरे रवैए को लेकर सपा ने लगाए गंभीर आरोप

0

उन्नावः जिले में बांगरमऊ विधानसभा सीट पर उपचुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है. वैसे-वैसे ही राजनीतिक सरगर्मियां और तेज होती जा रही हैं. आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो चुका है. बांगरमऊ स्थित सपा के केंद्रीय चुनाव कार्यालय में आज जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र यादव ने प्रेस वार्ता कर जिला प्रशासन और स्थानीय पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं. जिला अध्यक्ष ने जिला प्रशासन और पुलिस को सत्ता के एजेंट के तौर पर कार्य करने का आरोप लगाया. धर्मेंद्र यादव ने बताया कि सपा कार्यकर्ताओं और प्रत्याशियों की गाड़ियां जबरन बंद की जा रही है. सपा के कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस जमकर मारपीट कर रही है, जो पूरी तरह से गलत है. जिलाध्यक्ष ने धमकी भरे लहजे में कहा कि अधिकारियों को यह सोचना चाहिए कि सत्ता आती जाती है.

जिला प्रशासन पर आरोप
बांगरमऊ विधानसभा सीट पर उपचुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है. वैसे ही जिला प्रशासन और पुलिस पर आरोप प्रत्यारोप का दौरा शुरू हो चुका है. जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र यादव ने कहा कि पिछले 3 दिनों से बीजेपी बौखलाई हुई है. परसों रात से इस तरह का उत्पीड़न किया जा रहा है.

खाना खाने गए कार्यकर्ता के ड्राइवर को पीटा
धर्मेंद्र यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता खाना खा रहे थे. उनकी गाड़ी में ड्राइवर बैठा था. एक भी झंडा बैनर छोड़िए, इस तरह का गमछा भी नहीं था. उनसे पूछा गया आप किसके साथ हैं, जैसे ही उन्होंने बताया कि हम जिलाध्यक्ष के साथ हैं. जब तक अध्यक्ष ढाबे पर आते, ड्राइवर को थप्पड़ मार कर गाल लाल कर दिया. जब तक गाड़ी वाले पहुंचे तब तक ढाबे से तीन गाड़ी उठा कर थाने ले आए.

जिला निर्वाचन अधिकारी से बात करने के बाद गाड़ी छोड़ी
उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी और एसपी से शिकायत कर पूंछा कि ऐसा किस कानून के तहत गाड़ियों को लाया गया. उसके बाद सब कार्यकर्ता जब रात में थाने पहुंचे तो गाड़ियों को छोड़ा गया. धर्मेंद्र यादव ने कहा कि लोग जहां बैठते हैं, वहां रात में छापे डाले जा रहे हैं. हम लोगों के एक-एक कपड़े, एक-एक व्यक्ति को चेक किया जा रहा है. झूठा आडंबर फैलाया जा रहा है कि पैसे बांटे जा रहे हैं. कल हमारी महिला सभा की कार्यकर्ता कटरी के गांव में थी. महिला सभा के कार्यकर्ताओं के पास झंडा बैनर पोस्टर कुछ भी नहीं था. बावजूद इसके उनकी तीन गाड़ियों को पीएसी के साए में थाने लाकर बंद किया गया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More