खबर तह तक

कोविड-19 अस्पताल में बेड्स के साथ दवाएं-ऑक्सीजन की हो व्यवस्था: चीफ सेक्रेटरी

0

लखनऊः मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कोविड-19 के संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए अफसरों को सख्त दिशा-निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए राज्य स्तर पर ऐसा मैकेनिज्म डिवेलप किया जाए, जिससे जनपद स्तर पर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, सर्विलांस और टेस्टिंग की स्थिति और प्रगति की प्रतिदिन समीक्षा हो सके. डिस्ट्रिक्ट कमांड सेंटर सभी सूचना स्टेट कमांड सेंटर को अवश्य उपलब्ध कराएं और स्टेट कमांड सेंटर प्राप्त सूचनाओं के आधार पर फोन के माध्यम से रेंडम लोगों से संपर्क स्थापित कर क्रॉस चेकिंग व उनका फीडबैक प्राप्त कर सकें.

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कहा है कि 1 महीने की जरूरतों का ध्यान रखते हुए आकलन किया जाए. इसके लिए 4 सप्ताह के लिए दवाएं, मैनपावर और ऑक्सीजन आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए. इसके साथ ही अस्पतालों में बेड की संख्या पर भी विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है.

मुख्य सचिव राजीव कुमार तिवारी ने कहा कि स्टेट कमांड सेंटर में प्राप्त सूचनाओं का दैनिक अनुसरण करते हुए जनपदों में चिकित्सा सेवाओं व जरूरी सेवाओं को बेहतर बनाया जाए. हल्के लक्षण या बगैर लक्षण वाले मरीज जो होम आइसोलेशन में हैं, उनका लगातार पर्यवेक्षण किया जाए तथा जरूरी होने पर उन्हें तत्काल एंबुलेंस उपलब्ध कराते हुए कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया जाए. कोविड-19 कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, टेस्टिंग तथा सर्विलांस की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है.

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कहा है कि जिन इलाकों से अधिक केस आ रहे हैं. उनकी समीक्षा करते हुए टेस्टिंग, कांटेक्ट ट्रेसिंग को सर्विलांस के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की जाए. इसके अलावा प्रत्येक कोविड-19 आस्पताल में बेडों की संख्या बढ़ाई जाए और इसके दृष्टिगत दवाएं, ऑक्सीजन व आवश्यक मैन पावर की भी उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More