खबर तह तक

नोएडा: जब जिलाधिकारी सुहास एल वाई जमीन पर बैठ सुनने लगे फरियाद

गौतमबुद्धनगर (उप्र): ग्रेटर नोएडा कलेक्ट्रेट में सोमवार को एक पीड़ित अपनी फरियाद लेकर आया, पीड़ित इंसाफ की मांग लेकर अपने परिवार के साथ ही कलेक्टरेट ऑफिस में धरने पर बैठ गया। वहीं अंदर ऑफिस में गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी सुहास एल वाई मौजूद थे। पीड़ित के धरने पर बैठने की सूचना प्राप्त होते ही जिलाधिकारी बाहर आए, जिसके बाद पीड़ित रो-रो कर अपनी फरियाद सुनाने लगा। इतना देख जिलाधिकारी खुद जमीन पर बैठ गए और पीड़ित की फरियाद सुनने लगे। जिलाधिकारी को जमीन पर बैठते देख सीडीओ अनिल कुमार भी जमीन पर बैठ गए, जिसके बाद जिलाधिकारी को देख पीड़ित के आंसू निकल आए और वो अपनी दास्तां सुनाने लगा। पीड़ित की फरियादों को सुनते सुनते डीएम ने पीड़ित को मास्क लगाने को कहा, वहीं उनसे उनके बच्चों के बारे में भी पूछा।

दरअसल, पीड़ित की शिकायत है कि उसके प्लॉट पर एक महिला ने कब्जा कर लिया है। इस खातिर वह चार साल से परेशान है। पीड़ित प्रकाश ग्रेटर नोएडा के मुबारिकपुर गांव का निवासी है। साल 2018 में उसने वीरपाल नामक व्यक्ति से 50 गज का एक प्लॉट खरीदा था। आरोप है कि उस प्लॉट पर सुनीता नाम की एक महिला ने जबरन कब्जा कर लिया। इसके बाद पीड़ित अपनी शिकायत लेकर थाने भी गए, लेकिन उनके अनुसार वहां कोई कार्रवाई नहीं की गई।

कार्रवाई ना होने के कारण पीड़ित ने आज सूरजपुर कलेक्ट्रेट पर अपने बुजुर्ग पिता और तीनों बच्चों के साथ ही धरने पर बैठ गए, जिसके बाद जब जिलाधिकारी को इसकी सूचना मिली तो तुरंत पीड़ित के पास जमीन पर बैठ उसकी सारी बातें सुनीं और संबंधित अधिकारी को कार्रवाई करने के आदेश भी दिए। पीड़ित प्रकाश ने बताया, “मुझे जिलाधिकारी ने कहा है कि घबराइए मत, आपको इंसाफ जरूर मिलेगा और कल ही मिलेगा। इसके बाद भी अगर कोई नहीं सुनता तो आप मेरे पास फिर आना। भरोसा रखो, आपको न्याय मिलेगा।”

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More