खबर तह तक

बाराबंकी: इलेक्ट्रॉनिक तराजू में टेम्परिंग करने वाले गिरोह का खुलासा, पांच गिरफ्तार

बाराबंकी: उत्तर प्रदेश की स्पेशल टास्क फोर्स ने इलेक्ट्रॉनिक तराजू में चिप और रिमोट के जरिए टेम्परिंग कर घटतौली करने वाले एक गैंग का खुलासा किया है. एसटीएफ ने लखनऊ और बाराबंकी में अलग-अलग छापेमारी कर पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. बाराबंकी में छापेमारी करने पहुंची एसटीएफ ने एक अभियुक्त को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

टीम ने गिरफ्तार अभियुक्त समेत पांच के खिलाफ लोनी कटरा थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. टीम गिरफ्तार अभियुक्त को अपने साथ लखनऊ ले गई है, जबकि स्थानीय लोनी कटरा थाने की पुलिस बाकी के चार आरोपियों की तलाश कर रही है. दरअसल, पिछले कुछ समय से यूपी एसटीएफ को एक ऐसे संगठित गिरोह के सक्रिय होने की सूचना मिल रही थी, जो इलेक्ट्रॉनिक तराजू में चिप लगाकर उसे रिमोट के जरिये संचालित कर घटतौली कर रहा था. यही नहीं, ऐसी मशीनों की बड़ी संख्या में तैयार करने की भी सूचना मिल रही थी.

एसटीएफ टीम ने इन्हीं सूचनाओं के आधार पर जब पड़ताल शुरू की, तो खबर मिली कि एक गिरोह इसी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक तराजुओं को बेचने और पहले से संचालित हो रही मशीनों की मरम्मत करने के लिए शुक्रवार को लखनऊ के नगराम थाना क्षेत्र और बाराबंकी के लोनी कटरा थाना क्षेत्र में पहुंचेगा. इस सूचना के आधार पर दो टीमें बनाकर रवाना की गईं. एक टीम लखनऊ के नगराम गई, तो दूसरी टीम बाराबंकी के लोनी कटरा थाना क्षेत्र पहुंची.

रंगे हाथ पकड़ा गया अभियुक्त

उप निरीक्षक शिवनेत्र सिंह और मनोज सिंह के नेतृत्व में पहुंची टीम ने स्थानीय पुलिस और कार्यकारी मजिस्ट्रेट को साथ लेकर गौरवा उस्मानपुर गांव में बैजनाथ किसान इंटर कॉलेज के पास पहुंची, तो वहां दिनेश उपाध्याय नामक एक व्यक्ति मिला. तलाशी लेने पर उसके पास से इलेक्ट्रॉनिक तराजू में लगने वाली चिप, रिमोट लगाने संबंधित औजार आदि मिले. पूछताछ करने पर दिनेश ने कुबूल किया कि वह घटतौली के लिए ऐसी मशीनों की बिक्री, मरम्मत और इसमें लगाई जाने वाली चिप और रिमोट का काम करता है.

दिनेश ने यह भी कुबूल किया कि उसने इलाके में ऐसी कई मशीनें लगाई हैं. वहीं उसकी निशानदेही पर टीम ने मो. हसन और मो. लल्लन की दुकानों पर इलेक्ट्रॉनिक तराजुओं का निरीक्षण किया, जिसमें घटतौली करने वाली चिप और रिमोट बरामद हुआ. लिहाजा टीम ने लोनी कटरा थाने में दिनेश उपाध्याय समेत पांच के खिलाफ 420, 467, 468, 471, 475 और 476 जैसी गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More