उत्तर प्रदेशपीलीभीत

पीलीभीत: जिला अस्पताल के दौरे के वक्त सोशल डिस्टेंसिंग भूले मंत्री अतुल गर्ग

पीलीभीत: यूपी के पीलीभीत जिला अस्पताल का निरीक्षण करने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्री अतुल गर्ग पहुचे। इस दौरान उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं का निरीक्षण के साथ जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों से हालचाल पूछा। निरीक्षण के दौरान मंत्री के साथ बीजेपी नेताओं व विधायको ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नही किया पत्रकारों द्वारा सवाल पूछने पर पत्रकारों पर ही सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने का आरोप मंत्री अतुल गर्ग ने लगा दिया। वही अस्पताल के निरीक्षण के बाद मंत्री अतुल गर्ग ने बताया कि उन्होंने भर्ती मरीजों से स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी ली जिससे वो संतुष्ट है सरकार की मंशा अनुरूप मरीजो का इलाज हो रहा है।

योगी सरकार के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग अपने प्रस्तावित भ्रमण के तहत जिला अस्पताल पहुंचे। मंत्री आने की सूचना मिलने से पहले ही स्वास्थ्य विभाग अपनी खामियों को सुधारने में जुट गया। मंत्री को खुश करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने उनके पहुंचने से पहले ही इमजरेंसी वार्ड में नए पंखे मंगवाकर लगवा दिए। अब तक इमरजेंसी में पुराने लगे पंखे केवल शोपीस बनकर टंगे थे। मरीज भीषण गर्मी में परेशानी बर्दाश्त कर रहे थे। फिलहाल, इन सबके बीच स्वास्थ्य राज्यमंत्री गर्ग इमरजेंसी वार्ड में पहुंचे और पहले से भर्ती मरीजों का हालचाल जाना।

उन्होंने शासन से कोरोना जांच के लिए मिली ट्रू-नेट मशीन 24 घंटे चालू रखने के निर्देश दिए। फिर आइसोलेशन वार्ड को भी चेक किया। जिला अस्पताल के वार्ड के बीच में बने टॉयलेट में फ्लश बंद मिलने पर नाराजगी जताई। महिला अस्पताल में गर्भवती महिला के लिए वार्ड के अंदर बने टॉयलेट के दरवाजे पर ताला मिलने पर राज्यमंत्री ने सीएमएस डॉ. अनिता चौरसिया से नाराजगी जताई साथ ही राज्यमंत्री ने मरीजों से हालचाल जानने के बाद अस्पताल में किसी के द्वारा रुपये मांगने और समय पर खाना न मिलने के बारे में जानकारी।

महिला अस्पताल में नवजात को जन्म देने वाली महिलाओं को 100 रुपये देकर बधाई दी। साथ ही उन्हें सरकार की योजनाओं से भी अवगत कराया। इसके बाद जब स्वास्थ्य राज्यमंत्री से पीलीभीत में मेडिकल कॉलेज स्वीकृत होने के बाद निर्माण की तारीख पूछी गई तो वह बोले- उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है कि पीलीभीत में कोई मेडिकल कॉलेज भी स्वीकृत किया गया है। मंत्री के निरीक्षण में सामाजिक दूरी तार-तार हो गई। अधिकांश लोग एक दूसरे से सटकर खड़े हुए थे। अस्पताल के अंदर तो सब मास्क लगाए रहे, मगर बाहर आते ही सभी ने हटा दिए। राज्यमंत्री ने आइसोलेशन वार्ड, ऑपरेशन थियेटर, सीटी स्कैन मशीन, अल्ट्रासाउंड मशीन को भी चेक किया। फिलहाल, स्वास्थ्य अधिकारियों ने राज्यमंत्री को जो दिखाया, वह उसी में संतुष्ट हो गए।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button