खबर तह तक

पश्चिमी यूपी में 56 दिन के लॉकडाउन में 54 हत्याएं

लखनऊ। पश्चिमी यूपी में वैसे भी अपराध का ग्राफ प्रदेश के अन्य जिलों से ज्यादा रहता है मगर लॉक डाउन में यहां सामान्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा अपराध हुए हैं। एक आंकड़े के मुताबिक लॉक डाउन के 56 दिनों में मेरठ सहित 6 जिलों में 54 सिर्फ कत्ल हुए हैं वह भी बहुत ही मामूली वजहों से।

देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू हुआ। कामकाज बंद रहे, लोग घरों में रहे और समय का सदुपयोग रचनात्मक कार्यों में किया। कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्होंने खाली दिमाग शैतान का घर वाली कहावत को चरितार्थ किया। 56 दिन के इस लॉकडाउन में मेरठ, सहारनपुर, बिजनौर, शामली, बागपत और मुजफ्फरनगर में 54 कत्ल हो चुके हैं। कहीं खेत की डोल काटने के विवाद पर तो कहीं कुत्ता घुमाने के विरोध पर ही हत्या कर दी गई।

रिश्तों का भी खून हुआ, कहीं बेटे ने पिता की हत्या की तो कहीं पिता ने पुत्र को मार डाला। छोटी-छोटी बातों पर लोगों का खून खौल रहा है और वह बात बेबात लोगों की जान ले रहे हैं। मनोवैज्ञानिकों का भी मानना है कि खालीपन में गुसैल स्वभाव और चिड़चिड़ापन ऐसी वारदात का मुख्य कारण रहा।

बागपत में हर दूसरे दिन एक हत्या हो रही है। मई माह में अब तक हत्या की 11 वारदात हो चुकी हैं। ट्रॉली खड़ी करने को लेकर हुई कहासुनी में खिंदौड़ा संघर्ष में दो बुजुर्ग सगे भाइयों की हत्या कर दी गई।

नंगला बहाड़ी में शराब पीकर आए बेटे से हुई बहस में पिता ने सिर में लोहे की रॉड मारकर उसकी जान ले ली। बड़ौत में मजदूर, किरठल में किसान की हत्या शराब के नशे में ही की गई है। किरठल गांव में 18 मई को जनसेवा केंद्र संचालक की पूर्व सैनिक ने गोली मारकर हत्या की। दो मई को जिला कारागार में बंदी ऋषिपाल की हत्या कर दी गई।

पुलिस का कहना है कि प्रत्येक वारदात की अलग वजह है। जनपद में लॉकडाउन में मामूली विवादों और रंजिश को लेकर पिछले एक माह में हत्या की छह वारदात हुई। 28 अप्रैल को गांव खेड़ा गदाई में आड़ू तोड़ने का विरोध करने पर हर्ष की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

दो दिन बाद कस्बा झिंझाना में मामूली कहासुनी में यूसुफ की हत्या कर दी थी। सात मई को गांव जलालपुर में खेत पर काम कर रहे नरेश को डंडों से पीटकर मार डाला। एसपी विनीत जायसवाल का कहना है कि मामूली विवादों व रंजिश में हत्या की जो घटनाएं हुई है, उनमें तत्काल मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की गई है।

लॉकडाउन में यहां हुई हत्या की वारदात

  • मेरठ                   16
  • बागपत               11
  • मुजफ्फरनगर      9
  • सहारनपुर            8
  • शामली                8
  • बिजनौर              2

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More