खबर तह तक

फिर लौटी लखनऊ की रौनक, कई जगह उड़ी न‍ियमों की धज्‍ज‍ियां

लखनऊ। लॉकडाउन के 60 द‍िन के बाद राजधानी के करीब 400 बाजार एक बार फ‍िर से गुलजार हो गए हैं। शहर में करीब 70000 से अधिक दुकाने हैं, ज‍िनमें से दाएं-बाएं फार्मूले के आधार पर में गुरुवार से फ‍िर रौनक द‍िखाई देने लगी। गुरुवार को सुबह करीब 10:30 बजे के बाद हजरतगंज में मुख्य बाजार खुलना शुरू हो गया। इस दौरान बाजार की मशहूर दुकानों के शटर एक-एक करके उठने लगे।

कोहली ब्रदर्स, रामआसरे मिष्ठान भंडार, मोती महल रेस्टोरेंट जैसी बड़ी दुकानें एक-एक करके खुल गईं। दुकानें जरूर खुली मगर अभी ग्राहक दुकानों से नदारद हैं। यह बात दीगर है कि रामा आसरे मिष्ठान भंडार के बाहर जोमैटो और स्विगी जैसी कंपनियों के प्रतिनिधि होम डिलीवरी के लिए जरूर इंतजार करते नजर आए। व्यापारियों ने इस दौरान शारीरिक दूरी के मानकों का पूरा ख्याल रखा। दुकानों के बाहर थर्मल स्कैनिंग और सैनिटाइजर जैसी सुविधाएं भी उपलब्ध रहीं। सभी कर्मचारियों और दुकान के मालिक तक को दुकान के भीतर सैनिटाइजिंग और थर्मल स्कैनिंग के बाद ही प्रवेश दिया गया।

छूट म‍िली तो मनमानी भी शुरू

शहर में न‍ियमों के साथ दुकान खोलने की छूट म‍िली तो कई जगह पर दुकानदारों ने मनमानी करनी भी शुरू कर दी। न‍ियमों के व‍िपरीत दोनों पटरी पर दुकान खुली म‍िली। चारबाग सब्जीमंडी रोड पर सड़क के दोनों पट्टियों पर किराने, बेकरी और सब्जी की दुकाने खुल गई। वहीं रकाबगंज, यहीया गंज क्षेत्र में शारीरिक दूरी के मानकों की जमकर उड़ी धज्जियां।

शॉपिंग कांप्लेक्स भी खोले गए
रकाबगंज दालमंडी मैं राइट लेफ्ट का फार्मूला भूल मनमाने तरीके से दोनों और दुकानें खोली गई। जमकर भीड़ उमड़ी यहां शारीरिक दूरी के मानकों का उल्लंघन करते महिलाओं की भीड़ म‍िली। यहीयागंज मैं घनी गलियों में कांप्लेक्स खोले गए। खरीदारी का सिलसिला शुरू हो गया. ग्राहकों की भीड़ रही. 10:30 बजे नगर निगम की टीम बाजार का सैनिटाइजेशन करती दिखी। किराना मंडी में भी मनमानी नजर आई।दोनों ओर की दुकानें और एक कांप्लेक्स में दुकानें खुली मिली।

गोमती नगर में 90 फीसद से ज्यादा बाजार बंद

राजधानी के अधिकांश बाजार भले खुल गए हो लेकिन गोमती नगर पत्रकारपुरम कम मार्केट पूरी तरह से बंद है यहां तो चार दुकान छोड़कर एक भी दुकान नहीं खुली है। व्यापारियों में रोष है क्योंकि अधिकांश दुकानें पत्रकारपुरम पर कांप्लेक्स में है जो बंद है। व्यापारियों का आरोप है दुकान खोलने पर सरकार द्वारा जुर्माने का प्रावधान किया गया है वह अन्याय पूर्ण है। पत्रकारपुरम रोड के दूसरी तरफ घरों में चलने वाली दुकानें भी 90 फीसद बंद है स्थानीय दुकानदारों ने बताया एक-दो दिन माहौल देखकर दुकान खोलेंगे।

गोमती नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष आरपी दुबे ने कहा कांप्लेक्स में गोमती नगर का 80 फीसद व्यापार चलता है ऐसे में अगर कॉन्प्लेक्स दुकाने नहीं खुलेंगे तो आखिर व्यापार कैसे होगा लोगों को अपने कर्मचारियों को वेतन और दुकानों का किराया देने में अब दिक्कतें हो रही हैं सरकार को कुछ नियम और सरल करने चाहिए। वहीं सर्राफा व्यापारी मनोज गुप्ता ने कहा कि कोरोनावायरस महामारी सबके लिए घातक है कोई व्यापारी नहीं चाहेगा उसका उपभोक्ता उस वायरस की चपेट में आए या व्यापारी स्वयं आए इसलिए दुकान के मार्केट खोलने की अगर सरकार कांप्लेक्स में इजाजत देती है तो पूरा उसका बेहतर तरीके से पालन किया जाएगा।

बजरंगबली के कपाट रहे बंद मगर आते रहे भक्त

गंज के प्रख्यात हनुमान मंदिर के बाहर भक्तों का आना-जाना लगा रहा । यह बात दीगर है कि मुख्य कपाट बंद रहे लोग बाहर से ही घंटा बजाय और अनपढ़ रंग बली के दर्शन किए। मोतीमहल रेस्टोरेंट के मालिक एमडी आहूजा ने बताया कि जो भी मानक तय किए गए हैं उनका पालन किया जा रहा है। ग्राहक यहां रुक नहीं सकते। केवल टेक अवे की सुविधा है। सैनिटाइजर से लेकर थर्मल स्कैनिंग तक का पूरा इंतजाम किया गया है।

राजधानी में लॉकडाउन-4 के तहत 21 मई से शर्तों के साथ कुछ राहत देने का ऐलान किया गया है। प्रशासन ने शापिंग मॉल और बडे कांपलेक्‍स को छोड़कर सभी तरह की दुकानों को खोलने की सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक इजाजत दी हैै। बाजारों को रोजाना दाएं और बाएं आधार पर खोलने दिया जाएगा। यानी सडक के एक तरफ एक दिन सभी दुकानें खुलेंगी तो दूसरे दिन दूसरे तरफ की। एक दिन बाजार बंद रहेगा और उस दिन सैनीटाइजेशन होगा। बिना मास्‍क के किसी भी ग्राहक को सामान नहीं दिया जाएगा।

रेस्‍टोरेंट से केवल होम डिलीवरी
लंबे समय बाद लोग अब रेस्‍टोरेंट के खाने का भी घर पर बैठकर मजा ले सकेंगे। रेस्‍टोरेंट से केवल होम डिलीवरी ही होगी टेक अवे की भी अनुमति नहीं होगी। इसी तरह मिठाई की दुकानों से केवल बिक्री की अनुमति होगी। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के मुताबिक लॉक डाउन का पालन सभी को करना होगा। सार्वजनिक यातायात, बार, सिनेमाघर, मॉल और पालर्र पहले की तरह ही बंद रहेंगे। स्‍टेडियम में खिलाडियों को अभ्‍यास करने की और पार्को में लोगाेें को टहलने की शर्तो के साथ अनुमति दी जा रही है।

ये हैं खास बातें

  • हॉट स्‍पॉट पर पहले की तरह प्रतिबंध रहेगा, बफर जोन में दवा और राशन दुकानें खुलेंगी
  • सार्वजनिक यातायात, होटल, शापिंग मॉल, बडे कांपलेक्‍स, बार, पार्लर और सिनेमाहाल बंद रहेंगे
  • रेस्‍टोरेंट खुलेंगे लेकिन केवल होम डिलीवरी के लिए, टेक अवे भी मान्‍य नहीं
  • मिठाई की दुकानों पर भी केवल बिक्री की अनुमति
  • खिलाडि़यों के अभ्‍यास के लिए स्‍टेडियम सुबह शाम खुलेंगे
  • पार्क सुबह 7 से 10 बजे और शाम को 5 से 7 बजे खुलेगे
  • पार्क में टहलने या योग करने वाले मास्क लगाएंगे
  • स्‍ट्रीट वेंडर के लिए नगर आयुक्‍त निर्णय लेंगे
  • प्रिंब्टिग प्रेस और ड्राई क्‍लीनर्स भी खोल सकेंगे दुकान
  • सैलून खुलेंगे, लेकिन केवल हेयर कटिंग के लिए, प्रत्‍येक कटिंग के बाद ग्‍लब्‍स बदलना अनिवार्य होगा
  • अमीनाबाद और नखखास बाजारों पर कमेटी करेगी निर्णय
  • रेस्‍टोरेंट वालों को किचन की एक माह की रखनी होगी रिकॉर्डिंग
  • किचन में काम करने वालों को फेस मास्क, हेड कवर, शू कवर पहनना अनिवार्य होगा
  • व्यापारियों को रखना होगा रजिस्टर जिसमें ग्राहकों का नाम पता दर्ज करना होगा
  • साप्ताहिक बंदी वाले दिन दुकान को करना होगा पूरी तरह सैनिटाइज
  • बिना मास्क लगाए हुए ग्राहकों को व्यापारी समान नहीं देंगे
  • नियम तोड़ा तो दुकानदारों पर केस के साथ पांच लाख जुर्माना

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More