खबर तह तक

मालिनी अवस्थी ने गौरव पांधी को भेजा मानहानि नोटिस

लखनऊ। लोक गायिका मालिनी अवस्थी कांग्रेस के डिजिटल कम्युनिकेशन और सोशल मीडिया के नेशनल कोऑर्डिनेटर गौरव पांधी के आरोपों को लेकर मानहानि का नोटिस भेजा है। इसकी जानकारी मालिनी अवस्थी ने अपने टि्वटर हैंडल पर दी है। इससे पहले मालिनी अवस्थी ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर कहा था कि आरोपों का प्रमाण दें या फिर कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहें। लोकगायिका ने कहा कि आश्चर्य हो रहा है कि कैसे व्यक्ति के हाथ में ट्विटर चलाने की अनुमति दी गई है? और वो भी ऐसी पार्टी से जुड़ा है, जहां महिलाएं नेतृत्व करती हैं। उन्होंने कहा कि यह एक महिला का अपमान के साथ लोककला का भी अपमान है।

मालिनी अवस्थी ने कहा कि मैंने लोककला को अपनाया और अपने परिश्रम से कमाई की है। ये संयोग है कि मेरे पति अधिकारी हैं। उनके परिश्रम को उनके पति के साथ न जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि गली-गली की खाक छानकर लोक कला सीखी जाती है। लोक कला का मतलब, नारी का अपमान करने वाले क्या समझेंगे? मैं आरोप पर नोटिस दूंगी। मुझ पर लगाए गए आरोप साबित किए जाएं। मालिनी अवस्थी ने कहा कि अब वो समय नहीं रहा कि महिला चुप रहेगी। उन्होंने कहा कि मैं सियासत नहीं करती। मैं लोक कलाकार हूं और मेरे पति की ईमानदारी सर्वविदित है। उन्होंने कहा कि मेरे पति के चरित्र और ईमानदारी की मिसाल दी जाती है।

गौरव ने मालिनी अवस्थी के पति और यूपी के अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और मालिनी अवस्थी को लेकर ट्वीट किया था, जिसमें एसीएस होम पर बीजेपी के शाखा बॉय जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाया था। अवनीश अवस्थी की पत्नी लोकगायिका मालिनी अवस्थी पर भी आरोप लगाते हुए यूपी सरकार के लिए सैकड़ों शो कर करोड़ों रुपए कमाने की बात कही थी।

कांग्रेस की शर्मिष्ठा मुखर्जी ने भी किया मालिनी का समर्थन

इस मामले पर कांग्रेस नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुख्रजी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी भी मालिनी अवस्थी के पक्ष में उतरी हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि वो जानी मानी गायिका हैं और गिरिजा देवी की शिष्या रही हैं। बीजेपी सरकार के आने से पहले भी वो सैकड़ों शो कर चुकी हैं। पति पर आरोप लगाने के लिए पत्नी को मत घसीटिए।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More