खबर तह तक

सीएम योगी ने शुरू किया ‘उत्तर प्रदेश स्टार्टअप फंड’, जारी की 15 करोड़ की पहली किश्‍त

नई स्टार्टअप नीति बनाकर युवाओं को रोजगार दें: सीएम योगी

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा व अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों के लिए एक नई स्टार्टअप नीति प्रदेश में बने, जिससे प्रदेश का युवा जुड़ सके और जॉब की संभावनाओं को बल मिल सके। मुख्यमंत्री ने बुधवार को उत्तर प्रदेश स्टार्टअप फंड का शुभारंभ किया और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) को 15 करोड़ रुपये की पहली किस्त सौंपी। प्रदेश सरकार और सिडबी के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर हुआ है।

प्रवासियों को प्रतिभा के आधार पर रोजगार देंगे

मुख्यमंत्री ने बुधवार को पांच कालीदास मार्ग पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि इस समय बड़ी संख्या में प्रवासी कामगार और श्रमिक यूपी में आए हैं। हमें उनकी स्किल के अनुसार उन्हें रोजगार उपलब्ध कराना है। इससे न सिर्फ उनकी समस्याओं का समाधान होगा, बल्कि उनकी ऊर्जा और प्रतिभा का लाभ यूपी के माध्यम से पूरे देश को भी मिलेगा। हमारी नीयत नेक है, लेकिन नीयत के साथ-साथ निर्णय लेने की क्षमता को भी गति देनी होगी, तभी हम लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर पाएंगे।

यूपी में युवा नया स्टार्टअप लगा सकेंगे

उन्होंने कहा कि किसी भी अच्छे काम को तेजी से आगे बढ़ाने के लिए समय पर फैसला लेना जरूरी होता है, वरना एक बड़ा वर्ग योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाता है। समय पर यदि सही निर्णय लेकर काम शुरू कर दिए जाएं तो बहुत सारे लोगों के जीवन को एक नई दिशा दी जा सकती है। हमारी नई स्टार्टअप नीति आ रही है और इससे युवाओं को अपना स्टार्टअप लगाने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। एमएसएमई के लिए केंद्र सरकार ने जिस नए पैकेज की घोषणा की है, उसके आधार पर कार्रवाई को आगे बढ़ा दिया गया है। एक बड़ा ऑनलाइन मेला आयोजित कर उद्यमियों को लोन दिया जा चुका है।

युवाओं की क्षमता का उपयोग हो रहा : दिनेश शर्मा

उपमुख्यमंत्री डा. शर्मा ने कहा कि सिडबी के साथ जो समझौता हुआ है, उससे निश्चित रूप से स्टार्टअप की स्थापना में गति आएगी और स्टार्टअप संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा। उत्तर प्रदेश में तमाम संभावनाएं हैं, यहां के युवाओं के पास नए-नए आइडियास, विचार और कॉन्सेप्ट हैं, लेकिन उनका उपयोग अबतक नहीं किया गया था। वर्तमान सरकार ने इस विषय पर ध्यान दिया है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More