खबर तह तक

मुंबई से आजमगढ़ लौट रहे मजदूर का शव रास्ते में फेंक भागा ट्रक ड्राइवर

आजमगढ़। शिवपुरी जिले के करैरा में मुंबई से यूपी के आजमगढ़ लौट रहे मजदूरों से भरी ट्रक में अचानक से एक मजदूर की तबीयत खराब हो गई और फिर उसकी मौत हो गई। मजदूर को मृत देख ट्रक चालक ने मजदूर के शव को सड़क किनारे फेंक दिया और मौके से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक, मजदूर की तीन नाबालिग बेटियां भी साथ थीं। एक ट्रक ड्राइवर प्रवासी मजदूर के शव को सड़क किनारे उसकी तीन नाबालिग बेटियों के साथ छोड़कर फरार हो गया। कोरोना संकट में जहां इंसान एक दूसरे की मदद में लगा है तो वहीं इस घटना ने एक बार फिर से मानवता को शर्मसार कर दिया है।

बता दें कि देश में लॉकडाउन का चौथा चरण आज से शुरू हो गया है जोकि 31 मई तक जारी रहेगा। जब से लॉकडाउन लगा है तब से पूरे देश में प्रवासी मजदूर अपने मूल राज्यों में जाने के लिए परेशान हैं। देश में कोरोना संकट के साथ-साथ मजदूर संकट भी चल रहा है। हालांकि मजदूरों को उनके राज्यों में पहुंचाने के लिए सरकारों ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। मजदूर अपने घरों में जाने के लिए अवैध रूप से ट्रकों में छिपकर जा रहे हैं। इसके चलते कई मजदूरों की जानें भी गई हैं।

उत्तर प्रदेश की सीमा में नहीं मिली इंट्री

विभिन्न राज्यों से लौट रहे मजदूरों को मध्य प्रदेश से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाली रीवा-प्रयागराज मार्ग पर चाकघाट बैरियर पर रोके जाने के कारण हंगामा हो गया। शनिवार की रात मजदूरों पर लाठियां बरसाई गईं, वहीं रविवार को भी मजदूरों ने हंगामा किया और बैरिकेड्स तोड़कर आगे बढ़ गए। जानकारी के अनुसार, दूसरे राज्यों के मजदूरों को मध्य प्रदेश की सीमा में बसों से भेजने का सरकार की ओर से दावा किया गया है, मगर बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश को जाने वाले मजदूर पैदल चाकघाट बैरियर पर पहुंच गए, मगर उन्हें उत्तर प्रदेश की सीमा से पहले ही रोक दिया गया।

गांव तक भेजने की व्यवस्था प्रशासन ने की व्यवस्था

इस मामले में करैरा के तहसीलदार गौरीशंकर बैरवा का कहना है कि ट्रक वाला हंसराज की मौत के बाद उसके शव और परिजनों को सड़क किनारे छोड़ चला गया। उसकी तीन नाबालिग बेटियां भी साथ थीं। यह जानकारी हमने कलेक्टर को दी। इसके बाद लाश समेत परिजनों को उनके गांव तक भेजने की व्यवस्था एंबुलेंस से कर दी गई है। शिवपुरी में ट्रक से मजदूर को उतार फेंकने का यह पहला मामला नहीं है। 15 मई को अमृतलाल नामक युवक सूरत से उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में ट्रक से जा रहा था। शिवपुरी के बायपास चौराहे के निकट आते-आते युवक की तबीयत बिगड़ जाने से बेहोश हो गया। इस कारण युवक को चौराहे पर उतारकर ट्रक आगे निकल गया।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More