उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

सड़कों, आरओबी व फ्लाईओवर के निर्माण में तेजी से तय समय में पूरा हो काम: केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सेतु निगम, रेलवे, लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये है कि वे लखनऊ लोकसभा क्षेत्र में निर्माणाधीन सेतुओं, फ्लाईओवरों व आर0ओ0बी0 तथा सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी लायें। उन्होने सभी कार्यों की समय सीमा निर्धारित करते हुये निर्देश दिये कि सभी कार्य निर्धारित समय सीमा के अन्दर अनिवार्य रूप से पूरे किये जायें। उन्होने कहा कि सभी कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप और गुणवत्तापूर्ण होने चाहिये। मौर्य आज यहां लोक निर्माण विभाग स्थित तथागत सभागार में लखनऊ लोकसभा क्षेत्र के कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।

उन्होने कहा कि फ्लाईओवरों के निर्माण में जहां अतिक्रमण की समस्या है, वहां जिलाधिकारी व पुलिस कमिशनर तथा सम्बन्धित विभाग के अधिकारी समन्वय कर 15 दिन के अन्दर अतिक्रमण हटवाना सुनिश्चित करें। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि यूटिलिटी शिफ्टिंग के कार्य सम्बन्धित विभागों से समन्वय कर तत्काल पूरे किये जायें। उन्होने कहा कि सड़कों के नीचे जहां सीवर लाईन या पानी की पाइपलाईन जातीं हैं, यदि कहीं रिसाव हो रहा हो, तो उसकी तत्काल सम्बन्धित विभागों के अधिकारी अनिवार्य रूप से मरम्मत कराना सुनिश्चित करें। उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि पुलों के निर्माण कार्य के साथ एप्रोच रोड के भी कार्य शीघ्र पूर्ण किये जाएं।

लखनऊ आउटर रिंग रोड किसानपथ में सेतु निगम द्वारा 3 सेतुओं का निर्माण कार्य किया जाना स्वीकृत था, जिसमें से दो सेतुओं का निर्माण कार्य वित्तीय वर्ष 2018-19 में ही पूर्ण किया जा चुका है। रेलवे ओवरब्रिज का एप्रोच कार्य 94 प्रतिशत पूरा हो गया है, एप्रोच रोड का शेष कार्य लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को शीघ्र पूरा करने तथा आर0ओ0बी0 के निर्माण में रेलवे के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे अपने अंश के अवशेष कार्य को 12 जुलाई तक पूर्ण करा दें।

लखनऊ में हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी मोड़ तक दो लेन उपरिगामी सेतु का 90 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो गया है तथा लखनऊ शहर में ही चरक चैराहा-हैदरगंज चैराहा-चरक क्रसिंग-विक्रम काॅटन मिल रोड के निकट 02 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य 74 प्रतिशत पूर्ण हो गया है। इन दोनों ही उपरिगामी सेतुओं में आ रही अतिक्रमण की समस्या को शीघ्र हल करने के निर्देश उपमुख्यमंत्री ने दिये तथा चरक चैराहा-विक्रम काॅटन मिल के बीच के फ्लाई ओवर के निर्माण में विद्युत विभाग के अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि वे यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य तीव्र गति से पूरा करायें।

लखनऊ शहर में गुरू गोविन्द सिंह मार्ग पर हुसैनगंज चैराहा-बासमण्डी चैराहा-नाका हिण्डोला चैराहा-डी0ए0वी0 काॅलेज के मध्य 03 लेन फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य भी 95 प्रतिशत पूरा हो गया है। इस सम्बन्ध में उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सभी औपचारिकताएं पूरी करते हुये, इसे पूरा करा दिया जाए। लखनऊ-सुल्तानपुर मार्ग के किमी0-10 में अर्जुनगंज के समीप मरी-माता मंदिर के निकट 04 लेन सेतु पहुंच मार्ग एवं सुरक्षात्मक कार्य को कराये जाने के प्रस्ताव पर सहमति प्रदान की गयी तथा उपमुख्यमंत्री ने कहा इसके लिये सभी औपचारिकताएं शीघ्र से शीघ्र पूरी करायी जाएं।

मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य 3-3 लेन के मार्ग के निर्माण का कार्य जो रू0 29747.63 लाख की लागत से कराया जा रहा है, इसे माह जुलाई 2020 तक अनिवार्य रूप से पूरा कर लिया जाय। शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य लगभग रू0 12 करोड़ की लागत से बनाए जा रहे 3-3 लेन मार्ग के निर्माण कार्य को अगस्त 2020 तक पूरा करने के निर्देश मौर्य ने दिये। सीमैप इंस्टीट्यूट के पास निर्मित पुलिया के चैड़ीकरण के कार्य को भी अगस्त 2020 तक पूरा करने के निर्देश दिये। मौर्य ने खुर्रमनगर चैराहे से विकासनगर-रहीमनगर मार्ग के चैड़ीकरण के कार्य को भी एक माह के अन्दर पूरा करने के निर्देश सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को दिये।

बैठक में राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय, प्रमुुख सचिव लो0नि0वि0 नितिन रमेश गोकर्ण, सांसद प्रतिनिधि  के0पी0 सिंह, सचिव लो0नि0वि0 समीर वर्मा, सचिव लो0नि0वि0  रंजन कुमार, जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश, जिलाधिकारी बाराबंकी डाॅ0 आदर्श सिंह, जलनिगम के प्रबन्ध निदेशक विकास गोठलवाल, प्रमुख अभियन्ता लो0नि0वि0 एस0के0 श्रीवास्तव, राज्य सेतु निगम के प्रबन्ध निदेशक अरविन्द श्रीवास्तव, राजकीय निर्माण निगम के प्रबन्ध निदेशक यू0के0 गहलौत, मुख्य अभियन्ता लो0नि0वि0 ए0के0 अग्रवाल, रेलवे, नगर निगम, विद्युत, प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड व अन्य सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button