अयोध्याउत्तर प्रदेशताज़ा ख़बर

सहकारी समितियों के  दुग्ध उत्पादकों के 20100 किसान क्रेडिट कार्ड बनाने का लक्ष्य

आत्मनिर्भर भारत योजना को लेकर डीएम ने की समीक्षा बैठक

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कलेक्ट्रेट सभागार में आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत डेयरी दुग्ध सहकारी समितियों के दूध उत्पादकों को 20100 किसान क्रेडिट कार्ड के लक्ष्य में प्रगति की समीक्षा। जिलाधिकारी ने बताया कि शासन द्वारा  आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत जनपद के दुग्ध सहकारी समितियों के दुग्ध उत्पादकों के 20100 किसान क्रेडिट कार्ड बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

जिसे प्राप्त करने हेतु बैंक वार शाखा वार लक्ष्य का आवंटन किया गया है जिलाधिकारी ने पराग डेयरी के एमडी को निर्देश दिए कि आगामी 10 दिनों में दुग्ध सहकारी समिति के सभी सदस्यों के फार्म भराकर बैंक में जमा कराएं। आगामी 24 जून को होने वाली डीएलआरसी (जिला स्तरीय निगरानी समिति) की बैठक में पुनः इसकी समीक्षा की जाएगी  जिसमें  संपूर्ण प्रगति से अवगत कराया जाए।

इस अवसर पर जिलाधिकारी  अनुज कुमार झा ने  पीएम किसान के लाभार्थियों उद्यान एवं मत्स्य  विभाग के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित करने तथा सभी बैंकों में किसान क्रेडिट कार्ड से अच्छादित करने हेतु प्राप्त लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति की  भी समीक्षा की गयी।

जिलाधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री किसान के लाभार्थियों को विगत वर्ष के 22000 जमा कराए गए किसान क्रेडिट कार्ड फार्मो में प्रगति की समीक्षा की गई। जिस के संबंध में संबंधित अधिकारियों द्वारा कोई सटीक जानकारी नहीं उपलब्ध कराई गई।

इस अवसर पर जिला अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष 30,000 नए पीएम किसान के लाभार्थियों को लाभान्वित करने तथा 40000 पुराने किसान क्रेडिट कार्डों को पुनः नवीनीकृत करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके लिए जिलाधिकारी ने जिला कृषि अधिकारी को कृषि विभाग के सभी किसान सहायकों को उनके क्षेत्र के अनुसार लक्ष्य आवंटित करने तथा उन्हें गांव गांव जाकर कृषकों से बात करने व उनसे फार्म भराने के निर्देश दिए इसी के साथ-साथ जिलाधिकारी द्वारा पुराने के.सी.सी. को पुनः नवीनीकृत करने हेतू ए.आर.ओ. कोऑपरेटिव को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि सभी विभाग अपने अपने लक्ष्य को समय से प्राप्त करने हेतु कार्य में तेजी लाएं, बैंकर्स किसी भी आवेदन के निस्तारण में किसी भी प्रकार की हीला हवाली न करे और सरकार की मंशा के अनुरूप अधिक से अधिक किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से लाभान्वित करें।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने विभिन्न बैंकों में 6900 आवेदनों के पेंडिंग होने पर नाराजगी व्यक्त की सभी बैंकों को प्राप्त आवेदनों को इससे भी निस्तारित करने के निर्देश दिए गए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रथमेश कुमार, लीड बैंक मैनेजर दिलीप कुमार टंडन, डीडीएम नाबार्ड, जिला कृषि अधिकारी, पशु चिकित्सा अधिकारी, जनरल मैनेजर दुग्ध संघ अयोध्या, जिला गन्ना अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी सहित संबंधित बैंकों व विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button