उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरहरदोई

सकरौली गांव में पारिवारिक विवाद के चलते 5 दिन की एक अबोध बच्ची की चोट लगने से मौत

सवायजपुर (हरदोई)। पचदेवरा थाना क्षेत्र के सकरौली गांव में पारिवारिक विवाद में चले लाठी-डंडों से 5 दिन की एक अबोध बच्ची की मौत हो गई। इस घटना से परिजनों में हड़कंप मच गया। हालांकि अभी तक किसी भी पक्ष से पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई है।

फिलहाल सूचना मिलने के बाद बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है। पचदेवरा थाना क्षेत्र के सकरौली गांव में गुरुवार को नीरज पुत्र रामकुमार रैदास और प्रदीप पुत्र रामविलास रैदास के बीच कहासुनी के बाद गाली गलौज और जमकर मारपीट हुई।

बताया जाता है कि नीरज की साली और प्रदीप के बीच प्रेम प्रसंग की वजह से विवाद हुआ। जिसके बाद दोनों ओर से जमकर लाठी-डंडे चले। इसी दौरान नीरज को बचाने के लिए उसकी पत्नी ज्ञानवती अपनी 5 दिन की बेटी को गोद में लिए दौड़ी।

दोनों से चले लाठी-डंडों के दौरान एक लाठी की चपेट में ज्ञानवती की गोद में मौजूद उसकी 5 दिन की अबोध बच्ची भी आ गई, और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। दरअसल प्रदीप और नीरज सगे चचेरे भाई हैं।

मामला पारिवारिक होने की वजह से फिलहाल अभी किसी भी पक्ष की ओर से पुलिस को तहरीर नहीं दी गई है। हालांकि पुलिस को सूचना जरूर दी गई थी, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची, और बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

थानाध्यक्ष रामबचन भारती ने बताया कि अभी किसी पक्ष से कोई तहरीर पुलिस को नहीं मिली है। संभवत दोनों पक्ष सुलह समझौते का प्रयास कर रहे हैं, क्योंकि मामला पारिवारिक है, इसलिए परिवार के लोग दोनों पक्षों को समझाने में लगे हैं।

वही नीरज के पिता रामकुमार के मुताबिक बच्ची का पोस्टमार्टम होने और रिपोर्ट आने के बाद कोई कदम उठाया जाएगा। फिलहाल अबोध बच्ची की मौत से मां ज्ञानवती का रो रो कर बुरा हाल है। नीरज और ज्ञानवती के दो बेटे और एक बेटी है।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button