अयोध्याउत्तर प्रदेशताज़ा ख़बर

वामपंथी नेताओं ने जनसमस्याओं को लेकर की बैठक

लुभावने भाषण देकर गुमराह कर रही सरकार: माता बदल

अयोध्या। आयकर के दायरे से बाहर वालों को 3 माह के लिए 7500 रुपये प्रतिमाह आर्थिक सहायता देने, मनरेगा के बजट आबंटन बढ़ाकर 2 लाख करोड़ रुपये देने,मनरेगा मजदूरों को साल में 250 दिन का रोजगार देने,मजदूरी की दर 600 रुपये बढाने,राशन कार्ड की बाध्यता खत्म कर सभी को 50 किलो राशन व 3 किलो दाल प्रतिमाह 6 माह तक मुफ्त देने,प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने की समुचित व्यवस्था कराने, जिन मजदूरों की मौत रास्ता चलते या दुर्घटना में हुई उनके परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा व एक नौकरी देने,सार्बजनिक स्वास्थ व्यवस्था दिए जाने,

कोरोना सहित सभी गम्भीर बीमारियों की समुचित जांच व इलाज मुफ्त कराए जाने,सभी गरीबो को शिक्षा ,पानी व बिजली मुफ्त दिए जाने व 6 हजार मासिक पेंशन दिए जाने,श्रम कानूनों के रोक के अध्यादेश को वापस लिया जाने,सार्वजनिक छेत्र की इकाइयों के विनिबेश और विभिन्न छेत्रों में एसडीआई के निवेश को तत्काल प्रभाव को रोकने,सरकारी भूमि का वितरण खेत मजदूरों या भूमिहीनों में किये जाने व किसानों की भूमि छीन कर कारपोरेट की कवायत पर रोक लगाने की मांग खेत मजदूर यूनियन के राष्ट्रीय आवाहन पर अयोध्या जिले के तारुन ब्लाक में पार्टी कार्यालय पर उनके समर्थन में पार्टी व जनसंगठनों के नेताओ ने विरोध कर मांग का समर्थन किया गया।

माकपा जिलासचिव कामरेड कामरेड माताबदल ने कहा कि आज पूरे देश मे श्रमिको की बड़े पैमाने पर अनदेखी किया जा रहा है और सरकार केवल लुभावने भाषण देकर गुमराह कर रही है। आज खेत मजदूर यूनियन के राष्ट्रीय आंदोलन का पार्टी पूरा समर्थन करती है। किसान सभा जिलाध्यक्ष कामरेड मोहम्द इशहाक ने कहा कि किसान सभा द्वारा अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन की सभी मांगो का समर्थन आज के कार्यक्रम में शामिल होकर किया जाता है।

केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के चलते आज पूरे देश के मजदूर परेशान है और सरकार कुछ नही कर रही है।सरकार के कारिंदे बेलगाम है।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बिजली का निजीकरण किया जा रहा है जिससे बिजली महंगी हो जाएगी तथा कर्मचारियों की नौकरी का संकट पैदा हो जाएगा।संगठन मांग करता है कि निजीकरण न किया जाय।

जनौस के जिला सचिव कामरेड शेरबहादुर शेर व मंडल प्राभारी कामरेड विनोद सिंह ने संयुक्त बयान में खेत मजदूर यूनियन की सभी मांगो का समर्थन किया। किसान सभा के पूर्व जिलाध्यक्ष कामरेड अशोक यादव ने कहा कि लाकडाउन के आड़ में पुलिस ज्यादती कर रही है और जानाबाजार के ओझाने ग्राम के निवासी देवप्रकाश विश्वकर्मा की फर्जी मुकदमे में फसाये जाने की संगठन कड़ी निंदा करता है और फर्जी मुकदमा वापस लेने की मांग के लिए 5 सदस्यीय पार्टी का प्रतिनिधि मंडल 6 जून को एसएसपी अयोध्या से मिलकर फर्जी मुकदमा वापस लेने की मांग करेगा।

कार्यक्रम में जनौस मंडल प्राभारी कामरेड विनोद सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष कामरेड शेरबहादुर शेर,प्रदेश महासचिव कामरेड सत्यभान सिंह जनवादी,कामरेड खुर्शीद,कामरेड शेख हजारी,किसान सभा जिला सचिव बाबूराम यादव,कामरेड विश्राम प्रजापति,कामरेड रामपाल वर्मा,कामरेड प्रमनांद सिंह,कामरेड सुखदेव सुकई,कामरेड देव प्रकाश विश्वकर्मा मौजूद रहे।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button