उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

रोका तो दरोगा व महिला सिपाही पर चढ़ा दी कार, कई घायल

लखनऊ। हनुमान सेतु मंदिर के पास पुलिस के रोकने पर एक व्यापारी ने दरोगा व महिला सिपाही पर कार चढ़ा दी। इससे अनियंत्रित हुई कार कई अन्य गाड़ियों को टक्कर मारती हुई नाली में उतर गई। बचने के लिये व्यापारी व उसका साथी कार से निकल कर भागे लेकिन राहगीरों ने दोनों को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। उधर इस घटना में दरोगा के पैर में फ्रैक्चर हो गया और सिपाही के घुटने में काफी चोट आयी। चार राहगीर भी घायल हुए। पुलिस ने कार सवार दोनों लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

एडीसीपी उत्तरी राजेश श्रीवास्तव के मुताबिक दरोगा अभय कुमार सिंह और महिला सिपाही किरन की ड्यूटी हनुमान सेतु बैरियर पर थी। शनिवार दोपहर 12 बजे करीब वह लोग चेकिंग कर रहे थे। इसी समय तेज रफ्तार कार को एसआई अभय ने रुकने का इशारा किया। कार चला रहे लालबाग बेलदारीलेन निवासी एखलाक अली ने कार नहीं रोकी और निकलने की कोशिश की। इस पर कार बैरियर से टकरा गई। एसआई ने साथी पुलिस कर्मिर्यों की मदद से ड्राइवर को रोकने का प्रयास किया तो एखलाक ने गाड़ी बैक की, फिर तेजी से आगे बढ़ा दी। एसआई अभय और सिपाही किरन को टक्कर मारी, फिर तेजी से भागे। इस हड़बड़ी में ही कई गाड़ियों से उनकी कार भिड़ गई। ये लोग भी चोटिल हुए।

भीड़ के घेराबंदी करने पर कार छोड़ भागे

हनुमान सेतु पुल के पास पुलिस को टक्कर मारने के बाद  कर्मियों को रौंदने के बाद एखलाक साथी मो. शरीफ के साथ भागने लगा। पर, पुलिस को पीछा करते देख वह घबरा गए। इससे उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर नाली में उतर गई। इस पर दोनों लोग कार से उतर कर भागे लेकिन राहगीरों ने उन्हें दौड़ा कर पकड़ लिया। एखलाक के साथ कार पर सवार युवक की पहचान शरीफ के रूप में हुई। पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया।

गलती मानने के बजाए गांठते रहे रौब

एडीसीपी राजेश श्रीवास्तव के मुताबिक एखलाक और शरीफ को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि हादसे के बाद एखलाक राहगीरों को धमकाने की कोशिश कर रहा था। मौके पर पहुंचे सिपाहियों को भी एखलाक और शरीफ ने अर्दब में लेने का प्रयास किया था।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button