उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बररायबरेली

मंदिर के गुंबद में फंसा युवक, प्रशासन ने बचाई जान

रायबरेली। जिले के लालगंज क्षेत्र के एक मंदिर में चोरी के मामले में एक परिवार के सामने उस समय मुसीबतों का पहाड़ खड़ा हो गया जब अन्धविश्वास के चलते मंदिर में बनी दीवार के छेद से निकलने का प्रयास कर रहा व्यक्ति उसी में फस गया। घंटो मशक्कत के बाद उसे बाहर निकाला जा सका।

मामला बरस गांव स्थित बालवीरन मंदिर का है जहां मंदिर की दीवार के बाहर एक अन्य दीवार बनी है जिसमें छोटा छेद बना है। किवदंती है कि जिन लोगों ने चोरी की होती है वह इस छेद से नही निकल पाते है। उसी में फस जाते है।

भारी संख्या में लोग चोरी की शंका होने पर संदिग्ध को इस छेद से निकलने के लिए कहते हैं यदि वह निकल गया तो साहूकार नही तो उसे चोर की नजर से ही देखा जाता है। ऐसा ही एक मामला मंगलवार को हुआ। ग्राम अकोहरी थाना मौरावा जिला उन्नाव निवासी उमाशंकर की बहू सुषमा पत्नी विजय दुबे के गहने चोरी हो गए थे।

वह घर के लोगों पर ही गहने चोरी करने की आशंका जता रही थी। सफाई देने के लिए आज परिवार के सदस्य सुषमा के साथ इसी मंदिर आए थे। जब उसका देवर लक्ष्मी शंकर इस छेद से निकल रहा था तो उसी में फस गया। उसे बाहर निकालने में परिजन जब असफल रहे तब पुलिस को सूचना दी। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई।

एडीएम रामअभिलाष व एडिशनल एसपी नित्यानंद राय, क्षेत्राधिकारी इंद्रपाल सिंह, गुरूबख्शगंज पुलिस, लालगंज कोतवाली निरीक्षक राजकुमार पांडेय, दरोगा जेपी यादव, महेश यादव, पंचम लाल आदि पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे। लगभग डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद छेनी हथौड़ी से दीवार तोड़वाकर लक्ष्मीशंकर को बाहर निकाला जा सका।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button