उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरबाराबंकी

बाराबंकी में तीन शिक्षक सेवा से बर्खास्‍त, नाम बदलकर कर रहे थे नौकरी

बाराबंकी। फर्जीवाड़ा कर 25 जिलों में नौकरी करने वाली मैनपुरी की शिक्षिका अनामिका शुक्ला की गिरफ्तार के बाद उत्तर प्रदेश से एक के बाद एक जालसाजी के मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला शनिवार को बाराबंकी जिले से आया। यहां नाम बदलकर शिक्षक की नौकरी करने वाले प्रधानाध्यापक सहित तीन अध्यापकों का खुलासा हुआ। अब इनकी सेवा समाप्ति के लिए कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इन सभी शिक्षकों को 15 दिन का मौका दिया गया है, जिसमें आकर वह अपना पक्ष प्रस्तुत कर सकते हैं।

दरअसल, हैदरगढ़ ब्लॉक क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय पट्टी के सहायक अध्यापक रजत, सीठूमऊ के अभिषेक त्रिपाठी, रामनगर के नारायनपुर प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक शशिकांत मिश्रा को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने नोटिस भेजी है। जिसमें आरोप लगाया गया है कि यह शिक्षक नाम बदलकर नौकरी कर रहे थे।

स्पष्टीकरण तलब किया गया तो उसका जवाब भी नहीं दिया गया है। न ही कार्यालय में आकर अपना पक्ष प्रस्तुत कर रहे हैं। यह शिक्षक स्पष्टीकरण तलब करने के बाद से गायब हैं। बीएसए वीपी सिंह ने बताया कि तीनों शिक्षकों की सेवा समाप्ति की जा रही है, जिसकी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इन शिक्षकों को नोटिस भेजकर 15 दिन का और समय दिया गया है ताकि वह कार्यालय आकर अपना पक्ष प्रस्तुत कर सकें।

जिले में फर्जी शिक्षकों का रैकेट पकड़ा जा चुका है, जो इस समय जेल में हैं। इसके अलावा लगभग एक दर्जन से अधिक शिक्षकों को बर्खास्त किया जा चुका है। यह ऐसे शिक्षक हैं जो फर्जी पत्रावलियों के दम पर नौकरी कर रहे थे। अभी भी एक दर्जन से अधिक शिक्षक रडार पर हैं।

Rahul Tripathi

राहुल त्रिपाठी (उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त पत्रकार) पिछले 12 वर्षों से पत्रकारिता में हैं। इस दौरान आपने कैनविज टाइम्स, द मिड डे एक्टिविस्ट, स्वदेश चेतना, जनसंदेश, डेली न्यूज़, तरुनमित्र, विचार संकलन, पत्रकार सत्ता, दैनिक भास्कर आदि समाचार पत्रों में विभिन्न पदों पे जिम्मेदारियों को निभाया है। साथ ही द मॉर्निंग एक्सप्रेस एवं अमरेश दर्पण आदि में सह संपादक के पद पर भी कार्य किया है। तन्मय प्रभात के समूह संपादक के साथ-साथ खबरी अड्डा को भी अपनी सेवाएं दे रहें हैं और इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अयोध्या मंडल अध्यक्ष हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button