उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

फ्रॉड शिक्षिका अनामिका शुक्ला गिरफ्तार, बीएसए को इस्तीफा देने गयी थी

  • 1 करोड़ से ज्यादा उठा चुकी है वेतन
  • डाटा बेस से पकड़ा गया था फर्जीवाड़ा
  • बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिये कार्रवाई के निर्देश

लखनऊ। बेसिक शिक्षा विभाग को चकमा देकर फर्जी दस्तावेजों के दम 25 स्कूलों में में एक ही पद नौकरी कर एक करोड़ से ज्यादा वेतन उठा चुकी अनामिका शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह कासगंज में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में इस्तीफा देने आयी थी। वहीं इस जालसाजी में शामिल बेसिक शिक्षा विभाग के तमाम अफसर और कर्मचारी अभी तक बचे हुए हैं।

शिक्षिका पर आरोप हैं कि, 25 स्कूलों में एक ही पद पर काम करके एक करोड़ से ज्यादा वेतन हासिल किया। कासगंज पुलिस ने बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विदेदी के निर्देश के बाद दर्ज किया था मुकदमा। इस घोटाले का खुलासा तब हुआ जब बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षकों का डिजिटल डेटाबेस बनाया जा रहा था।

इस प्रक्रिया के दौरान कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में काम करने वाली पूर्णकालिक शिक्षिका अमेठी, अंबेडकरनगर, रायबरेली, प्रयागराज, अलीगढ़ और अन्य जिलों में एक साथ 25 स्कूलों में काम करती हुई पाई गईं। एक डिजिटल डेटाबेस के बावजूद, शिक्षिका इस साल फरवरी तक का वेतन धोखाधड़ी कर विभाग से निकालने में सफल रही। शिक्षिका ने 13 महीनों तक का वेतन लगभग 1 करोड़ रुपये निकाले हैं। विभाग के पास उपलब्ध रिकॉर्ड के अनुसार मैनपुरी जिले की मूल निवासी है।

इस मामले का खुलासा होने पर शासन स्तर तक हड़कंप मच गया। विभाग का डैमैज कंट्रोल करने खुद मंत्री सतीश द्विवेदी को उतरना पड़ा। उन्होने शिक्षिका पर कार्यवाही के लिए विभाग को लिखा पत्र। आनन-फानन आरोपी शिक्षिका के अभिलेखों की जांच की गयी और उसकी बर्खास्तगी के आदेश भी आ गया। मंत्री ने शिक्षिका के फर्जीवाड़े में शामिल अफसरों और कर्मियों पर भी कार्यवाही के निर्देश दिए थे। श्री द्विवेदी ने आरोपी शिक्षिका पर आपराधिक धाराओं में एफआईआर दर्ज कराने के आदेश भी दिए थे।

Saurabh Bhatt

सौरभ भट्ट पिछले दस सालों से मीडिया से जुड़े हैं। यहां से पहले टेलीग्राफ में कार्यरत थे। इन्हें कई छोटे-बड़े न्यूज़ पेपर, न्यूज़ चैनल और वेब पोर्टल में रिपोर्टिंग और डेस्क पर काम करने का अनुभव है। इनकी हिन्दी और अंग्रेज़ी भाषा पर अच्छी पकड़ है। साथ ही पॉलिटिकल मुद्दों, प्रशासन और क्राइम की खबरों की अच्छी समझ रखते हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button