उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरसुलतानपुर

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के प्रगति रिपोर्ट की डीएम ने परखी हकीकत

भूपेंद्र सिंह


स्थानीय श्रमिको को अधिक वरीयता से दें रोजगार: डीएम

सुलतानपुर। जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती द्वारा बुधवार को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के निर्माणाधीन विभिन्न स्थलों का निरीक्षण किया। उन्होंने पैकेज-3 एवं 4 का निरीक्षण कर प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने पैकेज 3 के चैनेज शारदा कैनाल के दीर्घ सेतु का निरीक्षण किया। जहाँ त्वरित गति से कार्य होता हुआ पाया गया। निरीक्षण में उन्होंने पाया कि मिट्टी के स्लोप प्रोटेक्शन कार्य को पर्यावरण अनुकूल बनाने हेतु जीओ सेल का कार्य कराया जा रहा है, जिससे पर्यावरण की स्वच्छता एवं ऑक्सीजन की उपलब्धता बरकरार रहेगी। जीओ सेल पर रोपित घास 24 घण्टे पर्यावरण को ऑक्सीजन प्रदान करती हैं।

उन्होंने मैटल बीम क्रैश बैरियर के लगाये जाने के कार्य का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण में उन्होंने पाया कि इण्टरचेन्ज फ्लाईओवर, रेलवे ओवरब्रिज के दीर्घ सेतुओं पर प्रकाश की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के प्रति एक किमी0 पर सड़क के दोनों तरफ 02-02 रेनवाटर हार्वेस्टिंग चैम्बर का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने पैकेज 3 के 62 प्रतिशत, पैकेज 4 के 48 प्रतिशत और पैकेज 5 के 48 प्रतिशत कार्य के पूर्ण होने तथा शासन के निर्देशानुसार सम्पूर्ण कार्य औसत 06 माह के अन्दर 55 प्रतिशत पूर्ण कर जनपद सुलतानपुर शीर्ष पर होने के कारण संतोष व्यक्त किया तथा शीघ्र ही कार्य पूर्ण होने की उम्मीद जाहिर की।

प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देशित किया कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे निर्माण में स्थानीय श्रमिकों को अधिक से अधिक रोजगार दिया जाय। प्रोजेक्ट मैनेजर ने अवगत कराया कि पैकेज 3 में 150 तथा पैकेज 4 में 110 स्थानीय श्रमिक कार्य कर रहे हैं और अधिक स्थानीय श्रमिकों को कार्य में लगाया जायेगा।निरीक्षण के दौरान पैकेज 3 व 4 के यूपीडा के अधिशासी अभियन्ता ओंकार भारतीय एवं प्रोजेक्ट मैनेजर विलास विशाल सहित अन्य सम्बन्धित उपस्थित रहे।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button