उत्तर प्रदेशगोण्डाताज़ा ख़बर

चालू वर्ष में मंडल में 01 करोड़ 68 लाख वृक्षारोपण का लक्ष्य

नर्सरियों के पौधों का सत्यापन सुनिश्चित किया जाए: आयुक्त

गोंडा। देवीपाटन मंडल के आयुक्त महेंद्र कुमार की अध्यक्षता में उनके शिविर कार्यालय पर  वृक्षारोपण लक्ष्य- 2020 से संबंधित बैठक सम्पन्न हुई, जिसमें मंडल में जनपदवार पौधरोपण का लक्ष्य, नर्सरियों में पौधों के उगान तथा रोपड़ स्थलों एवं उसमें किए गए अग्रिम मृदा कार्यों के संबंध में गहन समीक्षा की गई।

बैठक में आयुक्त ने निर्देशित किया कि मंडल की सभी नर्सरियों के पौधों का सत्यापन  कराया जाए तथा वृक्षारोपण के पश्चात् पौधों की देखभाल अपने बच्चों की देखभाल की तरह किया जाए। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण के इस कार्य में उनके स्तर से हर स्तर पर मार्गदर्शन व सहयोग प्रदान किया जाएगा।

आयुक्त ने वर्ष-2020- 21 में मंडल के 729 रोपण स्थलों में कराए गए अग्रिम मृदा कार्यों की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया है कि वन विभाग इन स्थलों पर लोहे के बोर्ड लगवा कर प्रजाति वार पौधों का विवरण, व्यय धन राशि का विवरण, पौधरोपण की तिथि, संबंधित अधिकारी का नाम तथा मोबाइल नम्बर अंकित कराना सुनिश्चित करें  ताकि रोपित पौधों की स्थिति के संबंध में सूचनाएं प्राप्त होती रहे।

मंडल में वृक्षारोपण  का कुल लक्ष्य 16868470 आवंटित किया गया है जिसमें वन विभाग का आवंटित लक्ष्य 8030100 तथा अन्य विभागों का आवंटित लक्ष्य 8838 370 पौधों का आवंटित किया गया है। मंडल के कुल आवंटित लक्ष्य में जनपद गोंडा को 4088 680, बहराइच को 5156610, श्रावस्ती को 4716910, तथा बलरामपुर सुहेलवा वन्य जीव प्रभाग को 2906270 का लक्ष्य आवंटित किया गया है। बलरामपुर के अंतर्गत वन विभाग के कुल लक्ष्य 904830 में बलरामपुर पार्ट गोंडा का 857300 लक्ष्य शामिल है।

बैठक में वन संरक्षक देवीपाटन वृत्त एके शुक्ल ने बताया कि वर्ष 2020-21 में देवीपाटन वृत्त में कुल 8069545 गड्ढे वन विभाग के आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष खोदे गए हैं, जिसमें जनपद गोंडा में 2449000, बहराइच में 2138610, श्रावस्ती में 3431335 तथा बलरामपुर सुहेलवा वन्यजीव प्रभाग में 50600 गड्ढे वन विभाग के आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष खोदे गए हैं।

आगामी 25 जून से पौधों की उठान शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि देवीपाटन मंडल के अंतर्गत कुल 104 नर्सरियां है। जिसमें गोंडा में 29, बहराइच में 32, श्रावस्ती में 36, तथा बलरामपुर में 7 नर्सरियां स्थापित है। इनमें 26710960 पौध उगान के लक्ष्य के सापेक्ष इस समय कुल 29398695 पौध उपलब्ध हैं।

मंडल की 2881 ग्राम पंचायतों तथा 15 शहरी निकायों का माइक्रो प्लान तैयार किया गया है। तथा उनकी मांग के अनुसार पौधों की पर्याप्त उपलब्धता है। बैठक में डीएफओ गोंडा आरके त्रिपाठी, मंडल के जनपदों के एसीएफ तथा अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button