उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

अस्पताल दौरे के बाद अब उप्र के मंत्री का होगा कोरोना टेस्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वित्त और चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना की गुरुवार को कोरोनावायरस संक्रमण को लेकर जांच होगी। मंत्री ने सोमवार को मेरठ के लाला लाजपत राय मेमोरियल (एलएलआरएम) मेडिकल कॉलेज का दौरा किया था। इस दौरान वह तीन कोविड-19 संक्रमण से ग्रस्त रोगियों के संपर्क में आ गए थे। वर्तमान में मंत्री ने खुद को पहले से ही क्वारंटाइन कर दिया है। तीनों मरीजों की कोरोना संक्रमण को लेकर पॉजिटिव जांच रिपोर्ट बुधवार को आई, जिसके बाद स्वास्थ्य अधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया।

मेरठ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. राज कुमार ने कहा कि मंत्री कुछ मिनटों के लिए ही वार्ड में रहे थे और ऐसे में उनके संक्रमित होने की संभावना बेहद कम है। सीएमओ ने कहा, “जिस अवधि तक मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अन्य नेता उक्त रोगियों के निकट थे, वह बहुत अधिक नहीं थी। एक व्यक्ति तभी संक्रमण से गस्त हो सकता है, जब उसने मरीज के साथ कम से कम 15 मिनट का जोखिम भरा वक्त बिताया हो।”

मंत्री सहित स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी कई मीडियाकर्मियों के साथ वार्ड का दौरा किया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने अब कहा है कि तीनों संक्रमित रोगियों के संपर्क में आने वाले सभी व्यक्तियों की जांच अगले पांच दिनों तक की जाएगी। सीएमओ ने कहा, “यदि अगले पांच दिनों में उनमें कोई लक्षण दिखाते हैं, तो मानक संचालन प्रक्रियाओं के अनुसार उनकी जांच होगी और उन्हें उपचार के लिए भेजा जाएगा।”

खन्ना कोरोना परीक्षण से गुजरने वाले उत्तर प्रदेश के दूसरे मंत्री होंगे। इससे पहले मार्च में सूबे के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने एक पार्टी में भाग लिया था, जहां वह बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर के संपर्क में आ गए थे। कनिका बाद में कोविड-19 से संक्रमित पाई गईं थीं। इसके बाद मंत्री की जांच हुई। हालांकि, जांच में सिंह के संक्रमित होने की पुष्टि नहीं हुई थी, लेकिन इस पर काफी विवाद हुआ था।

Ramanuj Bhatt

रामअनुज भट्ट तकरीबन 15 सालों से पत्रकारिता में हैं। इस दौरान आपने दैनिक जागरण, जनसंदेश, अमर उजाला, श्री न्यूज़, चैनल वन, रिपोर्टर 24X7 न्यूज़, लाइव टुडे जैसे सरीखे संस्थानों में छोटी-बड़ी जिम्मेदारियों के साथ ख़बरों को समझने/ कहने का सलीका सीखा।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button