अन्य

बाजारों में जबरदस्त तेजी, दो दिन में करीब 3000 अंक चढ़ा सेंसेक्स

कॉरपोरेट टैक्स में कटौती के शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के ऐलान के बाद से ही शेयर बाजार त्योहारी मूड में आ गया है.  इसके अलावा, जीएसटी रेट में कटौती और ट्रेड वॉर में नरमी के संकेत सोने पर सुहागा हो गए. वित्त मंत्री की घोषणा के बाद दो दिन में शेयर बाजार में करीब 3000 अंकों का उछाल आ चुका है. सोमवार को कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1075 अंकों की या 2.83 फीसदी की बढ़त के साथ 39,090.03 पर बंद हुआ.

Share Market

निफ्टी भी 329 अंकों की बढ़त के साथ 11,603 पर बंद हुआ. 1604 शेयरों में बढ़त और 971 शेयरों में गिरावट देखी गई है. बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में बीपीसीएल, बजाज फाइनेंस, आयशर मोटर्स, आईओसी आदि रहे, जबकि नुकसान वाले प्रमुख शेयरों में जी एंटरटेनमेंट, इन्फोसिस, टाटा मोटर्स, पावर ग्रिड आदि रहे.

इसके पहले शुक्रवार को सेंसेक्स 1921 अंक उछलकर बंद हुआ था. सोमवार को सुबह सेंसेक्स करीब 1300 अंकों की बढ़त के 39,312.94 पर खुला. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज निफ्टी 276.60 अंक बढ़कर 11550.80 तक पहुंच गया. विदेशी संस्थागत निवेशकों और घरेलू निवेशकों ने जमकर खरीदारी की. दोपहर 12.45 तक सेंसेक्स करीब 1415 अंकों की बढ़त के साथ 39432 पर पहुंच गया.

दो सेशन की तेजी में NIFTY की मार्केट कैप में करीब 7 लाख करोड़ का इजाफा हुआ है. मार्केट कैप के मामले में HDFC समूह ने बाजी मारी है.

अयोध्या मामले में राजीव धवन का बयान- एक बार मस्जिद हो गई तो हमेशा मस्जिद ही रहेगी

होटल कंपनियों के शेयर चढ़े

कॉरपोरेट टैक्स में कटौती और जीएसटी दरों में कमी जैसे डबल बोनांजा की वजह से होटल कंपनियों के शेयरों में कारोबार के दौरान 3 से 20 फीसदी का उछाल देखा गया. सबसे ज्यादा 19.50 फीसदी का उछाल ताज होटल्स में, 11 फीसदी का उछाल रॉयल ऑर्चर्ड और सवेरा इंडस्ट्रीज में और 10 फीसदी बढ़त जिंदल होटल्स और लेमन ट्री होटल्स में देखा गया.

गौरतलब है कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जैसे ही कॉरपोरेट टैक्स में कटौती का ऐलान किया घरेलू बाजार शुक्रवार को गुलजार हो गया. बाजार में एक दशक बाद की सबसे बड़ी एक दिनी तेजी देखी गई. घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने शुक्रवार को दिनभर के कारोबारी सत्र के दौरान 3,000 करोड़ रुपये का निवेश किया.

जानकारों के मुताबिक शेयर बाजार पर अभी इस ऐलान का असर अगले कुछ हफ्तों तक रहेगा. इस हफ्ते गुरुवार यानी 26 सितंबर को डेरिवेटिव एक्सपायरी है, इसलिए बाजार में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है. इसके अलावा अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर से जुड़ी खबरों पर भी सबकी नजर रहेगी. रुपये के कारोबार की शुरुआत सुबह 10 पैसे की नरमी के साथ हुई थी, लेकिन अंत तक यह थोड़ा मजबूत हो गया.

इतिहास की सबसे बड़ी बढ़त

निर्मला सीतारमण की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद शेयर बाजार ने जो रफ्तार पकड़ी, उसने एक नया रिकॉर्ड बना दिया. दरअसल, शुक्रवार को कारोबार के दौरान एक वक्‍त सेंसेक्‍स 2250 अंक से अधिक बढ़त के साथ कारोबार करता दिखा तो वहीं निफ्टी ने भी 650 अंकों से अधिक की बढ़त दर्ज कर ली. इससे पहले 18 मई, 2009 को सेंसेक्‍स में 2,110 अंक की तेजी आई थी. तब तत्कालीन यूपीए सरकार के एक बार फिर से सत्ता में वापस लौटने का जश्न मार्केट ने मनाया था.

Show More

Saloni

सलोनी भल्ला पत्रकारिता में पिछले चार साल से एक्टिव हैं। यहां से पहले अमर उजाला में कार्यरत थीं। "खबरी अड्डा" के बाद साथ-साथ लाइव टुडे में भी कार्यरत हैं। वॉयस ओवर आर्टिस्ट, कंटेंट राइटिंग, कंटेंट एडिटिंग और एंकरिंग में एक्सपीरियंस है। लेखन में पॉलीटिकल, क्राइम, एंटरटेनमेंट, ब्यूटी और हेल्थ के साथ-साथ गली मोहल्लों  की खबरों से लेकर सोशल मीडिया तक की चहल-पहल पर अपनी पैनी नजर रखती हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button