खबर तह तक

Health Tips: गिलोय का ज्यादा सेवन हो सकता है हानिकारक, सेहत को पहुंच सकते हैं ये 5 नुकसान

गिलोय का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है. प्राचीन काल से ही गिलोय का इस्तेमाल दवाओं में किया जाता है. कोरोना काल में इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने के लिए कई लोग गिलोय का सेवन कर रहे हैं. गिलोय में गिलोइन नामक ग्लूकोसाइड और टीनोस्पोरिन, पामेरिन एवं टीनोस्पोरिक एसिड पाया जाता है जो शरीर को सेहतमंद बनाए रखने में सहायक होता है. लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि गिलोय का ज्यादा से ज्यादा सेवन किया जाए. गिलोय का सेवन यदि सीमित मात्रा में किया जाए तो यह शरीर को बहुत फायद पहुंचाता है लेकिन इसका ज्यादा मात्रा में सेवन शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है. गिलोय का अधिक सेवन कई बीमारियों का कारण बन सकता है.

आज हम आपको बताएंगे कि गिलोए का अधिक सेवन करने से किन-किन बीमारियों की खतरा हो सकता है.

  • अगर आप गिलोय का अत्याधिक सेवन करते हैं तो इम्यून सिस्टम अधिक सक्रिय हो जाता है. इम्यून सिस्टम के ज्यादा सक्रिय होने से ऑटो इम्यून बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. रुमेटाइड आर्थराइटिस के मरीजों को गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • गिलोय का अधिक सेवन करने से ब्लड प्रेशर भी लो हो सकता है. जिन्हें लो ब्लड प्रेशर की शिकायत है उन्हें गिलोय के सेवन से बचना चाहिए.
  • किसी भी तरह की सर्जरी से पहले गिलोय का सेवन करना हानिकारक हो सकता है. इसलिए किसी भी तरह की सर्जरी कराने से पहले गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • गिलोय का सेवन गर्भवस्था के दौरान भी नहीं करना चाहिए. गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को गिलोय के सेवन से परहेज करना चाहिए.
  • गिलोय का अधिक सेवन करने से कब्ज की समस्या भी हो सकती है. गिलोय का इस्तेमाल सीमित मात्रा में ही करें.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More