खबर तह तक

अगर आपके हाथों में भी होती है झुनझुनाहट तो संभल जाइए, हो सकता है कोरोना

कोरोना वायरस का बढ़ता संक्रमण पूरी दुनिया के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। हालांकि अमेरिका, इटली और ब्रिटेन जैसे अन्य देशों की तुलना में भारत में कोरोना संक्रमण के मामले कम हैं और कोरोना से होने वाली मौतों का आंकड़ा भी अपेक्षाकृत कम है। पिछले साल दिसंबर में चीन के वुहान से जब यह महामारी फैलनी शुरू हुई थी तो विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ को कोरोना के मुख्य लक्षण निर्धारित किया था। लेकिन समय के साथ संक्रमण बढ़ता गया और इसके नए लक्षण भी सामने आते गए। हाल ही में कोरोना संक्रमण का एक और चौंकाने वाला लक्षण सामने आया है, जिसे पैराथीसिया कहा जा रहा है।

ब्रिटेन में लोगों में दिखे ये लक्षण

बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश, मांसपेशियों में दर्द आदि कोरोना के सामान्य लक्षण हैं। जबकि अभी कुछ हफ्ते पहले स्वाद और गंध न महसूस कर पाने को इसके लक्षणों में शामिल किया गया। इसके अलावा कुछ मरीजों में दिमागी प्रभाव जैसे अपनी सुध खो देने के भी मामले सामने आए हैं। ब्रिटेन की एक्सप्रेस डॉट को डॉट यूके(Express.co.uk) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, हाथों में दर्द के साथ झुनझुनाहट को भी कोरोना का शुरुआती लक्षण बताया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इंग्लैंड में कोरोना के मरीजों को हाथों में झुनझुनाहट के साथ तेज चुभन महसूस हुई। कुछ मरीजों के मुताबिक उन्हें बिजली का झटका जैसा महसूस हुआ और फिर पूरे शरीर में झुनझुनाहट महसूस हुई। एक मरीज का कहना था कि हाथों में झुनझुनाहट ही उसके शरीर में कोरोना वायरस का शुरुआती लक्षण था। इस नए लक्षण का नाम पैराथीसिया है, और इसमें सुई या पिन चुभने जैसा दर्द महसूस होता है।

न्यूयॉर्क में माउंट सिनाई डाउन टाउन में संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के निदेशक डॉ. वलीद जावेद के मुताबिक, वायरल संक्रमण के प्रति शरीर के इम्यून सिस्टम की प्रतिक्रिया के कारण ये लक्षण महसूस होते हैं। डॉ. जावेद का कहना है कि यह शरीर की प्रतिरक्षा प्रक्रिया ही है, जो इस वक्त कोरोना मरीजों के साथ हो रही है।

रिक्शे पर लगाया हनुमान जी की तस्वीर और गर्भवती पत्नी व डेढ़ साल की बेटी को गुड़गांव से बिठाकर अमेठी पहुंचा सूरज ।

वायरस के शरीर में प्रवेश करते ही हमारी प्रतिरक्षा कोशिकाएं सक्रिय हो जाती हैं। इस वजह से शरीर में बहुत सारे केमिकल यानी रसायन निकलते हैं, जिनसे झुनझुनाहट जैसा महसूस होता है। डॉ. जावेन के मुताबिक, अन्य बीमारियों में भी पहले इसी तरह के अनुभवों के बारे में वे सुन चुके हैं।

कोरोना मरीजों को भी सुई या पिन चुभने जैसे दर्द का अनुभव हुआ है। विशेषज्ञों के मुताबिक, डायबिटीज और ऑटोइम्यून कंडिशन वाले लोगों को ऐसा दर्द ज्यादा महसूस होने की संभावना है। फिलहाल इस लक्षण के पीछे की निश्चित वजह बता पाना मुश्किल है। लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि अक्सर अनियमित ब्लड सर्कुलेशन यानी रक्तसंचार या तंत्रिकाओं पर दबाव की वजह से ऐसा होता है।

हालांकि हाथों में दर्द और झुनझुनाहट महसूस होने के पीछे अन्य कारण भी हो सकते हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह है कि केवल हाथों में झुनझुनाहट के साथ दर्द होने का मतलब यह नहीं है कि आपको कोरोना संक्रमण है। सूखी खांसी, गले में खराश और बुखार जैसे अन्य लक्षण भी नजर आएं तो जांच करवाने के बारे में आप सोच सकते हैं।

 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More