उत्तर प्रदेशबड़ी खबरवाराणसी

CM Yogi वाराणसी पहुंचे, बाबा दरबार में ऑनलाइन दर्शन-पूजन का शुभारंभ

वाराणसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने निर्धारित कार्यक्रम से करीब तीन घंटे की देरी से सोमवार शाम 6 बजकर पांच मिनट पर वाराणसी पहुंचे। पुलिस लाइन स्थित हेलीपैड से वह सर्किट हाउस पहुंचे हैं। इसके बाद मुख्‍यमंत्री श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर गए। श्रीकाशी विश्‍वनाथ के दर्शन-पूजन का ऑन लाइन शुभारंभ मुख्‍यमंत्री ने किया। गर्भगृह में बाबा के पूजन के बाद मुख्‍यमंत्री ने तारकेश्‍वर मंदिर में ऑनलाइन सुविधा का शुभारंभ किया। इस दौरन पहले ऑनलाइन भक्‍त अमेरिका के न्‍यू यॉर्क विष्‍णु से मुख्‍यमंत्री ने दर्शन के अनुभव साझा किए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार श्री काशी विश्वनाथ धाम के ऑनलाइन दर्शन का बटन दबाकर शुभारंभ किया। इसके लिए परिसर स्थित तारकेश्वर मंदिर में व्यवस्था की गई है। उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री ने न्यूयार्क में बैठे भक्त विष्णु से बाबा के इस आनलाइन दर्शन पर प्रतिक्रिया भी जानी। अब देश-विदेश में रह रहे बाबा के भक्त आनलाइन रुद्राभिषेक, महामृत्युंजय जप आदि पूजा-अर्चन आनलाइन कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री अपने एक दिन के दौरे पर काशी पहुंचे थे। वह सर्किट हाउस में अल्प विश्राम के बाद सीधे श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में गर्भगृह के बाहर से ही बाबा का झांकी दर्शन किया। दर्शन के बाद योगी ने अपनी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना श्री विश्वनाथ धाम कारिडोर के निर्माण कार्य की प्रगति देखने के लिए गए। उन्होंने निर्माण कार्य की जानकारी मानचित्र आदि के माध्यम से ली। अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री 7 बजकर 13 मिनट पर काशी विश्‍वनाथ मंदिर के गेट नंबर 4 से प्रवेश किए और कार से उतरकर रानी भवानी गेट के उत्तरी द्वार से विश्वनाथ मंदिर में प्रवेश किए। यहां कुछ देर रहने के बाद मुख्यमंत्री का काफिला 7 बजकर 33 मिनट पर विश्वनाथ मंदिर से निकल कर कबीरचौरा स्थित जिला अस्‍पताल के लिए रवाना हो गए। मुख्यमंत्री के साथ धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री डा. नीलकंठ तिवारी, मंत्री रवींद्र जायसवाल, एडीजी बृजलाल, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, आइजी विजय सिंह मीणा, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, एसएसपी प्रभाकर चौधरी, सीईओ विशाल सिंह आदि मंदिर में मौजूद रहे। इसके बाद मुख्यमंत्री मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा में कोविड-ट्रू नेट लैब का उद्घाटन करने के लिए निकल गए।

मंडलीय अस्पताल के ट्रू नेट लैब का किया उद्घाटन

कबीरचौरा स्थित मंडलीय अस्पताल पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी के बीच में बनाये गये कोविड-19 ट्रू नेट लैब का उद्घाटन किया। कोविड-19 ट्रू नेट लैब का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सर्किट हाउस की ओर रवाना हो गये। सीएमओ डा.वीबी सिंह ने बताया कि अब कबीरचौरा अस्पताल में ही कोविड-19 जांच की जायेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब कोरोना संक्रमण रोकने के साथ ही आर्थिक गतिविधियां तेज करने की भी चुनौती है। प्रवासी लोगों की स्किल मैपिंग कर उन्हेंं सूक्ष्म, लघु और बड़े उद्योग में समायोजित करें। अप्रेंटिस की एक अच्छी स्कीम हैं जिसमें 2500 रुपया प्रतिमाह सरकार देती है। प्रवासियों व स्थानीय निवासियों को केंद्र व राज सरकार की विभिन्न स्कीम में कहां कहां रोजगार मिल सकता है उसकी मैपिंग कर आगामी छह माह के रोजगार की योजना बनाएं। बड़े जिलों में प्रतिदिन डेढ़ लाख रोजगार मिले।

आने से पूर्व गोरखपुर व आजमगढ़ भी हो कर आए

वाराणसी आने से पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करीब पौने तीन बजे गोरखपुर से चलकर आजमगढ़ गए। वहां करीब 3.10 बजे आजमगढ़ के पुलिस लाइन पहुंचे। सवा तीन बजे से पुलिस लाइन के नवीन गोष्ठी भवन में पार्टी पदाधिकारियों संग बैठक की। इसके बाद 3.56 बजे मुख्यमंत्री मंडलीय जिला चिकित्सालय का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे। वहां कोरोना टेस्टिंग मशीन का शुभारंभ किया।

जिला अस्पताल का लगभग 10 मिनट तक निरीक्षण करने के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि जिले में कोरोना मरीजों के सामने कोई समस्या ना आए। उन्होंने कहा कि अस्पताल की व्यवस्था भी ठीक है और कोरोना टेस्टिंग मशीन आ गई है। ऐसे में यहां ओपीडी और ऑपरेशन वाले मरीजों की संख्या बढ़ाने पर ध्यान दिया जाए। इसके बाद 4.21 बजे फिर नवीन गोष्ठी भवन के लिए रवाना हुए जहां अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक किए। इसके बाद वाराणसी के लिए रवाना हो गए।

Ramanuj Bhatt

रामअनुज भट्ट तकरीबन 15 सालों से पत्रकारिता में हैं। इस दौरान आपने दैनिक जागरण, जनसंदेश, अमर उजाला, श्री न्यूज़, चैनल वन, रिपोर्टर 24X7 न्यूज़, लाइव टुडे जैसे सरीखे संस्थानों में छोटी-बड़ी जिम्मेदारियों के साथ ख़बरों को समझने/ कहने का सलीका सीखा।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button