खबर तह तक

अखिलेश यादव ने खेली फूलों की होली, चाचा शिवपाल को लेकर कही बड़ी बात

इटावा: सैफई में मुलायम सिंह यादव की कोठी पर फूलों की होली खेली गई. अखिलेश यादव के साथ ही प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने भी परिवार के अन्य सदस्यों के साथ फाग गायन गाकर फूलों की होली खेली. इस मौके पर अखिलेश यादव के साथ ही प्रोफेसर रामगोपाल यादव, पूर्व सांसद बदायूं धर्मेंद्र यादव, पूर्व सांसद मैनपुरी तेज प्रताप यादव और परिवार के अन्य सदस्य मौजूद रहे.
शिवपाल के लेकर कही ये बात
होली के मौके पर चाचा शिवपाल यादव नहीं पहुंचे और उन्होंने सैफई में ही अपने आवास पर अलग मनाई होली. अखिलेश से जब चाचा शिवपाल के बारे में ना आने को लेकर पूछा गया तो अखिलेश ने कहा कि कहीं होली खेल रहे होंगे. वहीं, लायन सफारी से पहले गोरखपुर चिड़ियाघर चालू करने के बारे में पूछा गया तो अखिलेश ने कहा कि आज होली का त्येहार है ‘बुरा ना मानो होली है’.
बीजेपी ने किया भेदभाव
इस दौरान अखिलेश यादव ने ये भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने भेदभाव किया है और नफरत की राजनीति की है. इस बात के कई उदाहरण हैं. लायन सफारी इसलिए शुरू नहीं कर रहे हैं कि यहां रोजगार बढ़ेगा, कारोबार बढ़ेगा, पर्यटन का बड़ा केंद्र बनेगा, कोई ना कोई पैसा कमाएगा, इसलिए जानबूझकर ये सरकार भेदभाव कर रही है. सपा की सभी योजनाएं लेट की जा रही हैं साथ ही नाम बदलने की कोशिश की जा रही है. बीजेपी सपा के कामों पर अपना ठप्पा लगाने की कोशिश कर रही है. सरकार की ये आखिरी होली है. अगला त्योहार नई सरकार मनाएगी.
बीजेपी पर साधा निशाना
पंचायत चुनाव को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को सबक सिखाने के लिए लोग तैयार हैं. भारतीय जनता पार्टी बेमानी पर उतर आई है. किसान कानून से खेती बर्बाद कर दी है. वैश्विक महामारी से डरा दिखाकर लोगों का काम छीन लिया, नौकरियां छीन लीं रोजगार छीन लिया है.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More