खबर तह तक

Coronavirus Vaccination: कोरोना वैक्सीनेशन में भारत ने हासिल किया अहम मुकाम, एक करोड़ से ज्यादा को लगी COVID वैक्सीन

नई दिल्ली: देश में कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा एक करोड़ के पार पहुंच गया है. भारत में अब तक एक करोड़ से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना का टीका दिया गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, 1,01,88,007 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है. भारत में कोरोनावायरस टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू हुआ. इस हिसाब से एक महीने से कुछ ज्यादा वक्त में एक करोड़ लोगों को टीका लग चुका है. देश में कोरोनावायरस संक्रमण के कुल मामले 1.10 करोड़ के करीब पहुंच गए.
स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में COVID-19 के 13,193 नए केस दर्ज किए गए हैं. इसी के साथ संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,09,63,394 हो गए हैं. इस दौरान यानी बीते 24 घंटे में 97 मरीज़ों की मौत हुई है. वहीं बीते 24 घंटे में 10,896 लोग ठीक हो चुके हैं.
बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने गुरुवार को कहा कि भारत प्रत्येक देशवासी को कोरोना का टीका देने की दहलीज पर खड़ा है. देश अब स्वास्थ्य और आर्थिक स्थिरता दोनों को संतुलित करने की रणनीति अपनाते हुए तेजी से वापसी कर रहा है. हर्षवर्धन ने एक कार्यशाला में कहा कि कई कठिनाइयों के बावजूद भारत प्रति 10 लाख आबादी पर कोरोना के मरीजों और मृतकों के आंकड़े को मामले में दुनिया भर में सबसे निचले स्तर पर बनाए रखने में कामयाब रहा है
. 1.35 अरब लोगों वाले देश ने कड़े दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन किया.स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में COVID-19 के 13,193 नए केस दर्ज किए गए हैं. इसी के साथ संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,09,63,394 हो गए हैं. इस दौरान यानी बीते 24 घंटे में 97 मरीज़ों की मौत हुई है. वहीं बीते 24 घंटे में 10,896 लोग ठीक हो चुके हैं.
बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने गुरुवार को कहा कि भारत प्रत्येक देशवासी को कोरोना का टीका देने की दहलीज पर खड़ा है. देश अब स्वास्थ्य और आर्थिक स्थिरता दोनों को संतुलित करने की रणनीति अपनाते हुए तेजी से वापसी कर रहा है. हर्षवर्धन ने एक कार्यशाला में कहा कि कई कठिनाइयों के बावजूद भारत प्रति 10 लाख आबादी पर कोरोना के मरीजों और मृतकों के आंकड़े को मामले में दुनिया भर में सबसे निचले स्तर पर बनाए रखने में कामयाब रहा है. 1.35 अरब लोगों वाले देश ने कड़े दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन किया.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More