खबर तह तक

डिप्टी सीएम ने कहा- अखिलेश को नहीं पता धनिया-गाजर के पत्तों में अंतर

मैनपुरी : उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को मैनपुरी जिले का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने लोक निर्माण विभाग की 138 करोड़ योजनाओं का शिलान्यास किया. जिला संगोष्ठी के दौरान उपमुख्यमंत्री ने पार्टी की उपलब्धियां भी गिनाई. वहीं समाजवादी पार्टी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहां कि अखिलेश को यहां तक नहीं मालूम है कि धनिया और गाजर के पत्ते में क्या अंतर होता है. साथ ही उन्होंने कहा कि टि्वटर पर ट्वीट से सरकारें नहीं बनती हैं, जमीन पर काम करना पड़ता है.
138 करोड़ की योजनाओं का किया शिलान्यास
दरअसल, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मैनपुरी के रिजर्व पुलिस लाइन पहुंचे. इस दौरान उन्होंने सर्किट हाउस में लोक निर्माण विभाग की 138 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास किया. उन्होंने इस दौरान भारतीय जनता पार्टी की कोर कमेटी की बैठक की. वहां से कलेक्ट्रेट परिसर में अधिकारियों के साथ योजना समिति की बैठक ली. अंत में उपमुख्यमंत्री खरपरी के पास बीएस गार्डन में पहुंचे जहां पर मुख्य अतिथि के रूप में जिला संगोष्ठी कार्यक्रम में भाग लिए. यहां पर उन्होंने समाजवादी पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष पर तंज कसा. उन्होंने कहा कि अखिलेश पांच साल मुख्यमंत्री रहे पढ़े-लिखे हैं, लेकिन उनको यहां तक नहीं मालूम है कि धनिया और गाजर के पत्ते में क्या अंतर होता है.
 विपक्ष पर साधा निशाना
इस दौरान निशाना साधते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि सपा अध्यक्ष कोविड-19 वैक्सीन को बीजेपी का वैक्सीन बताते हैं, ऐसे लोगों को डॉक्टरों और वैज्ञानिकों से माफी मांगनी चाहिए. अभी तक ये लोग अपनी सरकार गुंडे माफिया और बूथ कैपचरिंग करके बनवा लेते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा. साथ ही कहा कि ट्विटर पर ट्वीट करने से सरकार नहीं बनती है, सरकार बनाने के लिए जमीन पर काम करना पड़ता है. किसान आंदोलन के मुद्दे पर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पॉइंट 1% किसान आंदोलन कर रहे हैं, बाकी सब बीजेपी विरोधी पार्टी के लोग हैं. आगे बोलते हुए कहा कि समाजवादी सरकार के दौरान 1100 रुपए में धान खरीदा जाता था, हमारी सरकार के दौरान एमएसपी रेट पर धान खरीदा गया है.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More