उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

सरकार के खिलाफ भ्रामक ट्वीट कर रिटायर्ड IAS सूर्य प्रताप सिंह के खिलाफ FIR दर्ज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के रिटायर्ड आईएएस अफसर सूर्य प्रताप सिंह के सोशल मीडिया पर सरकार विरोध भ्रामक पोस्ट करने पर लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में FIR दर्ज की गई है। उन पर आरोप है कि ट्वीटर पर सिंह ने कोराना जांच को लेकर फर्जी जानकारी डाली थी। इस मामले में सचिवालय चौकी प्रभारी सुभाष सिंह ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

इस बीच, एफआइआर की जानकारी मिलते ही सूर्य प्रताप सिंह ने गुरुवार देर शाम सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया और पुलिस से खुद को गिरफ्तार करने की मांग की। पुलिस का कहना है कि आरोपी के खिलाफ सरकारी आदेश का उल्लंघन और महामारी व आपदा अधिनियम समेत अन्य धाराओं में एफआइआर दर्ज की गई है। फिलहाल मामले की जांच चल रही है।

उन्होंने कहा कि टीम-11 पर किए मेरे ट्वीट को लेकर सरकार ने मेरे खिलाफ केस कर दिया है। सिंह ने कहा कि ये साफ कर देना चाहता हूं कि उत्तर प्रदेश सरकार की पॉलिसी पर दिए ‘No Test, No Corona’ वाले बयान पर मैं अडिग हूं, और सरकार से निरंतर सवाल पूछता रहूंगा।

यही नहीं इसके अलावा उन्होंने मुख्य सचिव पर किये अपने ट्वीट पर सफाई देते हुये लिखा कि ”मैंने आईएएस एसोसिएशन और मुख्य सचिव का जवाब मांगा था। जब कोई जवाब नहीं आया तो मैंने उसे मौन सहमति मान लिया। अगर जवाब देने की जगह सरकार मुकदमा करने की प्रथा को आगे बढ़ाना चाहती है तो मैं तैयार हूं, आइए गिरफ़्तार करिए। अपने खिलाफ दर्ज मुकदमे पर भड़के सिंह ने कहा कि इस पूरे मामले पर मैं प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सबका जवाब दूंगा। उन्होंने कहा कि सरकार से मेरे कुछ सवाल हैं और उन्हें मैं जनता के सामने रखूंगा।

Saurabh Bhatt

सौरभ भट्ट पिछले दस सालों से मीडिया से जुड़े हैं। यहां से पहले टेलीग्राफ में कार्यरत थे। इन्हें कई छोटे-बड़े न्यूज़ पेपर, न्यूज़ चैनल और वेब पोर्टल में रिपोर्टिंग और डेस्क पर काम करने का अनुभव है। इनकी हिन्दी और अंग्रेज़ी भाषा पर अच्छी पकड़ है। साथ ही पॉलिटिकल मुद्दों, प्रशासन और क्राइम की खबरों की अच्छी समझ रखते हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button