उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

बेरोजगारी बन रही आत्महत्या की वजह, बिहार चुनाव में उड़ चलेंगे ‘स्टार प्रचारक: अखिलेश यादव

लखनऊ। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बेरोजगारी को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। उन्होने कहा कि यूपी में बेरोजगारी आत्महत्या की बड़ी वजह बनी है, लेकिन भाजपा बिहार चुनाव में व्यस्त है। उसकी बेरोजगारी की समस्या के निपटने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

सपा नेता अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है, “यूपी में आज बेरोज़गारी आत्महत्याओं के रूप में एक भयावह समस्या बन गयी है। कोरोना के सच को झुठलाकर चुनाव में व्यस्त हो गयी भाजपा बेरोज़गारी और भुखमरी को जब समस्या ही नहीं मान रही है तो समाधान क्या करेगी। बिहार चुनाव आते ही कुछ दिनों बाद तो प्रदेश के ‘स्टार प्रचारक’भी उड़ चलेंगे।”

सरकार प्रवासियों के लिए उठाए ठोस कदमः बसपा

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी सरकार से बेरोजगार प्रवासियों को रोजगार देने के लिए ठोस प्रयास करने को कहा है। मायावती ने एक ट्वीट में कहा, “सुप्रीमो कोर्ट ने कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण प्रवासियों के खिलाफ मामलों को वापस लेने के लिए समय पर और सराहनीय कदम उठाने का आदेश दिया, बेरोजगार प्रवासियों ने नियमों का पालन नहीं किया और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।”

उन्होंने कहा, “अपने गृह राज्य में प्रवासियों को नौकरी प्रदान करने का सुप्रीम कोर्ट आदेश भी स्वागत योग्य है। इस संबंध में सरकारें उन्हें नौकरी देने में गंभीर और संवेदनशील होनी चाहिए और बिना किसी देरी के प्रक्रिया शुरू करनी चाहिए। यह बसपा की मांग है।”

भाजपा ने शुरू कर दी हैं वर्चुअल रैलियां

बता दे कि पिछले कुछ दिनों में भारतीय जनता पार्टी की ओर से वर्चुअल रैलियों की शुरुआत की गई है। अब तक अमित शाह बिहार-ओडिशा और पश्चिम बंगाल में सभाओं को संबोधित कर चुके हैं। लॉकडाउन के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों से प्रवासी मजदूर अपने घरों को वापस लौट चुके हैं। इनमें काफी संख्या में मजदूर यूपी के ही हैं, जो वापस आए हैं। ऐसे में इनके सामने अब रोजगार का संकट है।

Saurabh Bhatt

सौरभ भट्ट पिछले दस सालों से मीडिया से जुड़े हैं। यहां से पहले टेलीग्राफ में कार्यरत थे। इन्हें कई छोटे-बड़े न्यूज़ पेपर, न्यूज़ चैनल और वेब पोर्टल में रिपोर्टिंग और डेस्क पर काम करने का अनुभव है। इनकी हिन्दी और अंग्रेज़ी भाषा पर अच्छी पकड़ है। साथ ही पॉलिटिकल मुद्दों, प्रशासन और क्राइम की खबरों की अच्छी समझ रखते हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button