देशबड़ी खबर

केरल: एक और हथिनी की मौत की खबर आई, जबड़े में है फ्रैक्‍चर

तिरुवनंतपुरम। केरल में गर्भवती मादा हाथी की मौत के बाद एक और ऐसा ही मामला सामने आया है। इस हथिनी को जबड़े में फ्रैक्चर मिला है। फिलहाल मौत के कारण का पता नहीं चला है, इसकी जांच की जा रही है। दरअसल, न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अधिकारियों को यह मादा हाथी पठानपुरम के जंगलों में एक जलधारा के पास मिली थी।

वन अधिकारी ने बताया कि वह बहुत कमजोर थी। हमने उसे कुछ दवा देने की कोशिश की, लेकिन वह लड़खड़ाकर गिर गई। पोस्टमार्टम से पता चलता है कि इस हथिनी को जबड़े में एक महीने पहले फ्रैक्चर हुआ था। बताया गया कि यह फ्रैक्‍चर उसके द्वारा खाई गई चीज का परिणाम हो सकता है। हालांकि अभी इस मामले की जांच चल रही है।

गौरतलब है कि केरल के मल्लपुरम से इंसानियत को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई थी। यहां एक गर्भवती मादा हथिनी खाने की तलाश में जंगल के पास वाले गांव पहुंच गई, लेकिन वहां शरारती तत्वों ने अनन्नास में पटाखे भरकर हथिनी को खिला दिया, जिससे उसका मुंह और जबड़ा बुरी तरह से जख्मी हो गए।

वन विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक, विस्फोटक से उसके दांत भी टूट गए थे। इसके बाद भी मादा हथिनी ने गांव में किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया और वो वेलियार नदी पहुंच गई, जहां तीन दिन तक पानी में मुंह डाले खड़ी रही। बाद में उसकी और गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गई।

वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, हथिनी की उम्र 14-15 साल रही होगी। वन विभाग के अधिकारियों को ये हथिनी 25 मई को मिली थी। 27 मई को नदी में खड़े-खड़े उसने दम तोड़ दिया। वन विभाग ने उसकी जान बचाने की कोशिश की, लेकिन चमत्कार नहीं हो सका। बीजेपी सांसद और एनीमल राइट एक्टिविस्ट मेनका गांधी ने केरल सरकार पर सवाल उठाए हैं।

वन विभाग ने गर्भवती मादा हथिनी की हत्या करने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इसके लिए जिम्मेदार लोगों की पहचान और धरपकड़ की कोशिश तेज कर दी गई है। इंसानों और जानवरों के बीच संघर्ष के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं लेकिन ये पहली बार है, जब किसी हथिनी को इस तरह से विस्फोटक खिलाकर मारा गया है।

Saloni Bhatt

सलोनी भल्ला पत्रकारिता में पिछले चार साल से एक्टिव हैं। यहां से पहले अमर उजाला में कार्यरत थीं। "खबरी अड्डा" के बाद साथ-साथ लाइव टुडे में भी कार्यरत हैं। वॉयस ओवर आर्टिस्ट, कंटेंट राइटिंग, कंटेंट एडिटिंग और एंकरिंग में एक्सपीरियंस है। लेखन में पॉलीटिकल, क्राइम, एंटरटेनमेंट, ब्यूटी और हेल्थ के साथ-साथ गली मोहल्लों  की खबरों से लेकर सोशल मीडिया तक की चहल-पहल पर अपनी पैनी नजर रखती हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button