मनोरंजन

बॉलीवुड मुझे आकर्षित करता है लेकिन मजा वेब स्पेस में आता है: ईशा चोपड़ा

मुंबई: ‘व्हाट द फोक्स’, ‘ऑफिशियल सीईओगिरी’ और हाल ही में आए ‘ऑफिशियल भूतियागिरी’ सहित कई डिजिटल शो के साथ अभिनेत्री ईशा चोपड़ा डिजिटल स्पेस में एक अलग जगह बना रही हैं। हालांकि वह उतनी ही रुचि व्यावसायिक बॉलीवुड फिल्मों का हिस्सा बनने में रखती हैं। पिछले तीन महीनों में कई कम से मध्यम बजट की फीचर फिल्में सीधे ओटीटी रिलीज के लिए चली गई हैं। वेब सीरीज की संख्या में तेजी से वृद्धि के साथ यह मध्यम व्यापार के लिए एक व्यावसायिक रूप से अच्छा मंच बन गया है। ईशा को लगता है कि डिजिटल प्लेटफॉर्म पर एक प्रयोग के रूप में शुरू की गईं मिनीसीरीज को दर्शकों ने इन कमर्शियल तौर पर व्यवहार्य बना दिया है।

ईशा ने आईएएनएस को बताया, “क्या हमारे पास एक खास तरह का दर्शक है, इसका पता लगाने का एकमात्र तरीका है कि हम उसे एक नई कहानी बताएं। जब तक हम नई कहानी सार्वजनिक मंच पर नहीं लाएंगे, तब तक कैसे जानेंगे कि वास्तव में लोग उसे देखना चाहते हैं या नहीं या उसके लिए हमारे पास मार्केट है या नहीं।” उन्होंने आगे कहा, “जब दर्शक 100 करोड़ की बजट वाली फिल्म देखते हैं तो वे इसे देखकर बस मोहित हो जाते हैं। दूसरी ओर, जब लोग डिजिटल प्लेटफॉर्म पर विशेष रूप से वेब श्रृंखला या लघु फिल्मों के कन्टेन्ट को देखते हैं तो वे चरित्र को नहीं देखते हैं। पिछले कुछ वर्षों में वेब सीरीज की कहानियों ने दर्शकों को बहुत आगे बढ़ाया है।” ईशा ने ‘पी.ओ.डब्ल्यू. : बंदी युद्ध के’, ‘लव ऑन द रॉक्स’, और ‘मैडली, क्लीन शेवन’ जैसे शो में सह-लेखक के रूप में भी काम किया है।

Saloni Bhatt

सलोनी भल्ला पत्रकारिता में पिछले चार साल से एक्टिव हैं। यहां से पहले अमर उजाला में कार्यरत थीं। "खबरी अड्डा" के बाद साथ-साथ लाइव टुडे में भी कार्यरत हैं। वॉयस ओवर आर्टिस्ट, कंटेंट राइटिंग, कंटेंट एडिटिंग और एंकरिंग में एक्सपीरियंस है। लेखन में पॉलीटिकल, क्राइम, एंटरटेनमेंट, ब्यूटी और हेल्थ के साथ-साथ गली मोहल्लों  की खबरों से लेकर सोशल मीडिया तक की चहल-पहल पर अपनी पैनी नजर रखती हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button