कोरोना वायरसताज़ा ख़बरदेशबड़ी खबर

कोरोना वैक्‍सीन को लेकर हाथ लगी बड़ी कामयाबी, सफल हुआ टेस्ट

दिल्ली। दुनिया के ताकतवर देशों में शामिल ब्रिटेन में सबसे बड़े कोविड-19 वैक्‍सीन प्रोजेक्‍ट को लेकर इस समय ऑक्‍सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने टेस्‍ट किया गया है. वहां के शोधकर्ताओं ने शुरुआत में बंदरों के समूह पर यह टेस्‍ट किया. उसमें सफलता भी मिली. इस दौरान पाया गया कि यह टेस्‍ट काम कर रहा है.

इसके अलावा टेस्‍ट में शामिल शोधकर्ताओं ने कहा कि वैक्सीन ने रीसस मैकाक बंदरों की प्रतिरक्षा प्रणाली को घातक वायरस से बचाने के लिए बेहतर संकेत दिए हैं और कोई प्रतिकूल प्रभाव के संकेत नहीं दिखाए हैं. बताया गया है कि अब इस वैक्‍सीन का ट्रायल इंसानों पर भी चल रहा है. गौरतलब है कि वैश्विक स्‍तर पर कोरोना वायरस से लड़ने के लिए इस समय 100 से अधिक टीकों पर काम चल रहा है.

अमेठी जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 13 से बढ़कर हुई 16

वैक्सीन को लेकर शोधकर्ताओं ने रिपोर्ट में बताया कि टेस्‍ट के दौरान छह बंदरों को कोरोना का भारी भरकम डोज देने से पहले उन्‍हें वैक्‍सीन लगाया गया. इसका अलग-अलग बंदरों पर अलग प्रभाव देखने को मिला. शोधकर्ताओं ने पाया कि वैक्‍सीन लगाने के बाद उनमें से कुछ बंदरों के शरीर में 14 दिनों में एंटीबॉडी विकसित हो गई और उनमें कुछ में 28 दिन में.

Saloni

सलोनी भल्ला पत्रकारिता में पिछले चार साल से एक्टिव हैं। यहां से पहले अमर उजाला में कार्यरत थीं। "खबरी अड्डा" के बाद साथ-साथ लाइव टुडे में भी कार्यरत हैं। वॉयस ओवर आर्टिस्ट, कंटेंट राइटिंग, कंटेंट एडिटिंग और एंकरिंग में एक्सपीरियंस है। लेखन में पॉलीटिकल, क्राइम, एंटरटेनमेंट, ब्यूटी और हेल्थ के साथ-साथ गली मोहल्लों  की खबरों से लेकर सोशल मीडिया तक की चहल-पहल पर अपनी पैनी नजर रखती हैं।

संबंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button