रिपोर्टर बन आप अपने क्षेत्र की हलचल और समाज की समस्याओं को उजागर कर सकते हैं...लिखिए कोई भी खबर, हम पोस्ट करेंगे आपकी खबर आपके नाम के साथ।
अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए खबरी अड्डा के साथ विज्ञापन बुक करे। बुकिंग के लिए सबसे आसान विकल्प उपलब्ध है।

सुलतानपुर: डीएम-एसपी ने ऐतिहासिक दुर्गा पूजा विसर्जन यात्रा का किया शुभारंभ

सुलतानपुर: जिले में पूर्णिमा के दिन होने वाले ऐतिहासिक दुर्गा पूजा महोत्सव विसर्जन यात्रा का जिलाधिकारी और एसपी ने शुभारंभ किया. इस दौरान नगर पालिका चेयरमैन बबीता जायसवाल को मां की चुनरी उढ़ाकर प्रतीकात्मक रूप से सम्मानित किया गया और साफ सफाई का दायित्व दिया गया. डीएम और एसपी ने मां दुर्गा के रथ को हाथ से खींच कर यात्रा का शुभारंभ करते हुए सुरक्षा का संकल्प लिया.

895 से 200 घटा प्रतिमाओं का आंकड़ा
केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के तत्वाधान में देवी प्रतिमाएं पंडाल में सजती हैं और उनका विसर्जन होता है. गत वर्ष यह आंकड़ा 895 था, लेकिन कोविड-19 प्रभाव के चलते यह आंकड़ा 200 के आसपास सिमट गया है. प्रतिमाओं की लंबाई भी छोटी हुई है. 10 से 15 फुट की बनने वाली मूर्तियां 5 से 10 फुट तक सिमट गई.

इस दौरान डीएम ने कहा कि सुलतानपुर की अलग परंपरा रही है. यहां पूर्णिमा को दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन होता है. इसी के चलते यह कार्यक्रम हो रहा है. पूर्व के वर्षों में यह कार्यक्रम बेहद भव्य होता रहा है. हमारी ईश्वर से प्रार्थना और आकांक्षा है कि आगामी वर्षों में भी यह कार्यक्रम पुराने पैटर्न के हिसाब से हो. इस बार कोविड-19 प्रोटोकॉल में प्रतिमाओं का कद छोटा हुआ है.

केंद्रीय पूजा समिति के तत्वधान में नगर पालिका चेयरमैन बबीता जायसवाल ने चुनरी ओढ़ कर प्रतीकात्मक दुर्गा माता का किरदार निभाया. वहीं जिलाधिकारी रवि गुप्ता और पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीणा ने पगड़ी पहन कर सुरक्षित यात्रा का संकल्प लिया. इसके बाद डीएम एसपी व समिति के पदाधिकारियों ने हाथ से रस्सी खींच कर यात्रा का शुभारंभ किया. इस दौरान मां दुर्गा के जयकारे के नारे लगे.

ड्रेनेज वॉटर संयुक्त बने गड्ढे में विसर्जित होंगी प्रतिमाएं
जिलाधिकारी रवीश गुप्ता कहते हैं कि भीड़ भी नियंत्रित हुई है. आप देख रहे हैं लोग मास्क लगाकर विसर्जन यात्रा में शामिल हुए हैं. सीताकुंड घाट पर विसर्जन का इंतजाम किया गया है. जहां पानी के डालने और निकालने का लगातार क्रम जारी है. यहां पर सोशल डिस्टेंस के तहत विसर्जन यात्रा का आयोजन किया जा रहा है. लोग भी सहयोग कर रहे हैं. रोशनी के पर्याप्त प्रबंध करते हुए सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.