खबर तह तक

गिरफ्तार ISIS आतंकी की पत्नी बोली- 4 बच्चे हैं कहां जाऊं, पिता बोला- मुझे पता होता तो घर से निकाल देता

0

लखनऊ/बलरामपुर। दिल्ली में गिरफ्तार ISIS के कथित आतंकवादी अबू यूसुफ उर्फ मुस्तकीम की पत्नी का कहना है कि उसने अपने शौहर को गलत राह पर जाने से रोका था मगर वह नहीं माना। वहीं, मुस्तकीम की गिरफ्तारी से स्तब्ध उसके पिता ने कहा कि उन्हें कभी यह नहीं लगा कि उनका बेटा दहशतगर्दी की राह पर चल पड़ा है। मुस्तकीम की पत्नी आयशा ने रविवार को कहा, “मैंने उससे कहा था कि तुम गलत कामों में पड़ गए हो। तुम्हें ऐसी हरकतें नहीं करनी चाहिए, लेकिन वह नहीं माना।”

आयशा ने कहा, “काश उसे माफ़ किया जा सके। मेरे चार बच्चे हैं। मैं कहां जाऊंगी?” अपने घर के कमरे से बरामद सामान के बारे में पूछे जाने पर उसने बताया, “दो जैकेट, एक बेल्ट, एक बोतल, कुछ विस्फोटक सामान और छर्रे बरामद हुए हैं। यह सारी चीजें एक बक्से में रखी थीं।”

उधर, मुस्तकीम के पिता कफील अहमद ने कहा कि उनका बेटा घर में ही अपने परिवार के साथ अलग एक कमरे में रहता था, वह अक्सर बीमार रहता था और उन्हें कभी एहसास तक नहीं हुआ कि वह आतंकवाद की राह पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि मुस्तकीम शुक्रवार को राठ जाने के लिए अपने घर से निकला था। उसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चला। शनिवार को मालूम हुआ कि दिल्ली में उसकी गिरफ्तारी हुई है।

इस सवाल पर कि पुलिस बता रही है कि यूसुफ ने यहां कहीं बारूद इकट्ठा किया था और पास के कब्रिस्तान में जाकर बम की टेस्टिंग करता था, कफील ने कहा, “वह बाग में तो जाता ही नहीं था। हम लोग ईद-बकरीद बाग के कब्रिस्तान में जाकर फातिहा करते हैं। हो सकता है वह कभी एकाध बार चला गया हो लेकिन हमने बारूद के बारे में तो कुछ सुना ही नहीं।”

उन्होंने कहा, “अगर उन्हें मालूम होता कि मुस्तकीम बारूद इकट्ठा कर रहा है तो वह उसे अपने घर में कतई ना रहने देते। उन्होंने कहा, मैं उससे कहता कि तुम्हारे बाप-दादा इतने इज्जतदार रहे और तुमने यह क्या काम किया।’’

इस सवाल पर क्या उन्हें मालूम है कि उनके घर से विस्फोटक बरामद हुआ है, कफील ने कहा, “हमें कुछ नहीं पता। रात में जब पुलिस आई है और उसने सामान ढूंढकर निकाला तब हमें पता लगा कि यह क्या चीज है।” कफील ने कहा कि जो कुछ हुआ उन्हें इसका बेहद अफसोस है। उन्होंने कहा, ‘‘यह सभी जानते हैं कि मुस्तकीम बहुत अच्छा लड़का है। वह बहुत कायदे से बातचीत करता है। किसी से कोई झगड़ा बवाल नहीं करता है।’’

गौरतलब है कि बलरामपुर जिले के बढ़या भकसाई गांव निवासी मुस्तकीम उर्फ अबू यूसुफ को दिल्ली पुलिस ने धौलाकुआं इलाके में शुक्रवार को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना है कि यूसुफ आईएसआईएस का आतंकवादी है और उसके पास से आईईडी विस्फोटक बरामद किए गए हैं। प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ते की एक टीम शनिवार को मुस्तकीम के गांव पहुंची थी और कई लोगों से पूछताछ की थी। मुस्तकीम करीब आठ साल पहले मुंबई में प्लास्टर ऑफ पेरिस का काम करता था लेकिन चोट लग जाने के बाद वह अपने गांव चला आया और उसने करीब चार साल पहले हाशिम पारा बाजार में कॉस्मेटिक की दुकान खोली थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More